सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ अफताब आलम ने जगाया अलख

October 14, 2018 5:25 pm0 commentsViews: 176

अजीत सिंह

सिद्धार्थनगर। बसपा के डुमरियागंज लोकसभा क्षेत्र प्रभारी प्रत्यासी आफताब आलम ने आज इटवा विधानसभा क्षेत्र किे दर्जनों गांवों में जनसम्पर्क कर आम अवाम को भाजपा सरकार की जनविरोधी नीतियों की जानकारी दी। इसके साथ ही उन्होंने गांवों में स्थापित मां दुर्गा प्रतिमाओं के दर्शन भी किये और यथाशक्ति चढ़ावा भी पेश किया।

इटवा विधानसभा क्षेत्र के पूर्व प्रत्याशी अरशद खुर्शीद के साथ बसपा के घोषित उम्मीदवार आफताब आलम ने इटवा के मऊ,  पचमोहनी, गौरा बाज़ार, टिकुईया, इटवा, विस्कोहर, सोहना, सिकटा, बदलिया सहित डेढ़ दर्जन  गावों में जपसम्पर्क किया। उन्होंने गांवों में जुटे गरीब लोगों को सरकार की जनविरोधी नीतियों की जानकारी देते हुए कहा की डीजल की महंगाई ने किसानों की खेती को महंगा बना दिया है, जबकि वह उपज का दोगुना दाम देने का वायदा करके मुकर गई है, जिससे किसान की कमर टूट रही है।

आफताब आलम ने कहा कि गांव के लोग भी वाहन से चलते हैं। पेट्रोल के दाम बढ़ने से उनका खर्चा बढ़ा है। उन्होंने कहा कि पढ़े लिखे युवाओं के लिए नौकरी का इंतजाम करने की कौन कहे वर्तमान सरकार भरती प्रकियाओं पर रोक लगाती जा रही है। ऐसे में किसान के पढ़े लिखे बच्चे कहां जायेंगे। वर्तमान केन्द्र और यूपी की सरकारें विकास के बजाये समाज में दुर्भावना पैदा कर वोट बैंक बना रही है।

बसपा नेता ने कहा कि जिले की सभी सड़कें टूटी हुई हैं। स्कूलों का बुरा हाल है। लूट चोरी डकैती ही नही रेप तक की घटनाएं बढ़ रहीं हैं। थाना, कचहरी में रिश्वत और भ्रष्टाचार का बोल बाला है। आज अधिकांश जनता भाजपा शासन से त्रस्त है। लोग इस सरकार को पलटने के लिए तैयार हैं। मै तो सिर्फ किसानों, जवानों का जगाने आया हूं। अगर आपने लोकसभा चुनाव में मुझे मौका प्रदान किया तो मै जिले की रूप रेखा बदलने का भरसक प्रयास करूंगा।

इस दौरान वह गांवों में स्थापित दुर्गा पंडालों में भी गये और वहां श्रद्धावनत हुए। गांव भ्रमण में बसपा नेता हाजी अरशद खुर्शीद पूर्व प्रत्याशी  ने भी लोगों के बीच भाजपा राज के कुशासन की चर्चा की। उनके साथ हाजी शकील अहमद, डॉ जुबेर अहमद, इजहार अहमद, मो. समद पूर्व प्रमुख, ज्वाला प्रसाद राजभर, अशोक राजभर, प्रह्लाद गिरी, दिनेश गौतम, शमीम अहमद, पी.पी. सिंह, एस पी यादव, डॉ राधेश्याम, पेशकार पासवान, परवेज अहमद, तिललोकी नाथ तिहारी, अंगद राज, सेराज अहमद, रामयग्य गौतम, बलराम मिश्रा, शाहिद ,मुन्ना पांडेय, आदि लोग साथ रहे।

(141)

Leave a Reply