सपा बसपा गठबन्धन से सत्ताधारी दल में घबराहट का माहौल- आफताब आलम

January 25, 2019 4:37 pm1 commentViews: 257

अजीत सिंह

सिद्धार्थनगर। बहुजन समाजवादी पार्टी और समाजवादी पार्टी में समझौता होने से सत्ताधारी दल भाजपा में घबराहट का माहौल है। यही कारण है कि इनके नेता जनता के बीच अपने विकास कार्यों के बखान करने के बजाए  विपक्षी नेताओं के प्रति अनर्गल शब्दों के प्रयोग पर उतर आईं है। जनता इनकी घबराहट को बखूबी समझती है  उसने आगामी चुनाव में इनको सबक सिखाने का मन बना लिया है।

उपरोक्त आशय का विचार बसपा नेता व डुमरियागंज लोकसभा क्षेत्र के प्रभारी/प्रत्याशी आफताब आलम ने व्यक्त किया।  वह कपिलवस्तु विधान सभा क्षेत्र के ग्राम लमतिहवा व सेमरी  में निर्बल और असहाय लोगों को कम्बल वितरण के बाद वहां आयोजित सभाओं को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने लगभग एक हजार लोगो को कम्बल वितरित किया और उन्हें भाजपा सरकार की गरीब विरोधी नीतियों की जानकारी  भी दी।

इस अवसर पर आफताब आलम ने कहा कि भाजपा सरकार पिछले पांच साल से गरीब विरोधी और जूठ की राजनीति कर रही है। उन्होंने कहा कि चुनाव के दौरान मोदी जी ने सत्ता आने पर विदेशों से कलाधन लाने और सभी को 15 लाख देने।का वादा किया था। मगर न कालाधन ला सके न गरीब को फूटी कौड़ी दे सके। हर साल दो करोड यानी पाचे सालों में अस करोड युवाओं को नौकरी व राजगार देने का वादा किया था, मगर पांच सालों में वह दो लाख को भी नौकरी नहीं दे सके। किसानों को फसल का दोगना दाम देने का वादा किया था , वह भी झूठा निकला।

बसपा नेता आफताब ने ने लोगों से कहा कि ऐसे झूठे और गरीब नेता व उनकी पार्टी को सबक सिखाने का समय आ गया है। इसके लिए आपको कमर कस लेनी चाहिए। उन्होंने कहा कि चुनाव जीतने के लिए यह मंदिर मस्जि, हिंदू मुसलमान की बात करेंगे, मगर आपको खेती किसानी, नौकरी रोजगार पर डछे रहला है और उसी आधार पर वोट डालना है। कार्यक्रम में उनके साथ बसपा नेता राजा राम लोधी, अजुर्न सिंह, राम देव पासवान, चन्द्रभान, अमरेश पाल यादव, नन्हें पांडेय, राजन सिंह, प्रेम नारायण सिंह लवकुश साहनी आदि शामिल रहे।

 

 

(231)

Leave a Reply