मुम्बई में सिद्धार्थनगर के 2.25 लाख वोटरों को पांच दिन में मथ डाला आफताब आलम ने

November 4, 2018 4:24 pm1 commentViews: 1032

— आफताब आलम की सभाओं का मैसेज सिद्धार्थनगर ही नहीं यूपी के तमाम जिलों के प्रवासियों के दिलों में भी घर कर गया

जावेद खान

मुंबई। लोकसभा क्षेत्र डुमरियागंज से बहुजन समाज पार्टी के घोषित उम्मीदवार आफ़ताब  आलम उर्फ़ गुड्डू भैया ने अपने पांच दिवसीय मुम्बई दौरे में डुमरियागंज क्षेत्र के ढाई लाख प्रवासी मतदाताओं से सघन सम्पर्क किया। जैसे जमे दूध कोदही बनाने के लिए उसे मथना पड़ता है, उसी अंदाज में आफताब आलम ने अपने पवोटरों को मथ डाला। उन्होंने इस दौरे के माध्यम से लोगों से सीधी संवाद किया। नतीजे में उन्हें बेपनाह मुहब्बत मिली और लोगों का भरोसा जीता। उन्होंने लोगों से उन्होंने किसान विरोधी और पूंजापति समर्थक केन्द्र सरकार को उखाड़ फेंकने का अहवान भी किया। उन्होंने कहा कि गांव से किसानों के बेटे यहां आये तो अब जीएसटी जैसे काले कानून ने यहां भी उनका जीना दुश्वार कर दिया है।

आफताब आलम ने  31 अक्टूबर से 4 नवम्बर  अपरान्ह तक दारूखाना, रे-रोड, गुलाब शाह स्टेट, कुर्ला, नासीबुल्लाह कंपाउंड, कुर्ला, गोकुल धाम गोरेगांव, मुंब्रा, मीरा रोड, साकीनाका और वसई, आदि जगहों पर डुमरियांगज लोकसभा क्षे़त्र के लोगों से जनसम्पर्क किया तथा लगभग एक दर्जन सभाओं को  सम्बोधित किया। जिसमें उन्होंने बताया कि आमी चुनाव में उन्हें बसपा को क्यों वोट देना चाहिए। आफताब आलम के हर कार्यक्रम में प्रवासी लोगों की भारी भीड़ जुटी। उनो समर्थन में जोरदार नारे भी लगे। उनके दौरे से उनका संदेश गोंडा, बलरामपुर, आजमगढ़, सुल्तानपुर आदिजिले के प्रवासियों भी गया।

उन्होंने एक दर्जन सभाओं में कहा मुम्बई में रहने वाले सिद्धार्थनगर के लोग काफी मेहनतकश और ईमानदार है।इन्होंने अपनी मेहनत और ईमानदारी से एक मुक़ाम हासिल किया है। लेकिन मोदी सरकार ने जीएसटी और नोटबन्दी से लोगों की खुशियां छीन ली हैं। लोगों के कारोबार को तहस नहस कर दिया है। अब समय आ गया है कि अपने अधिकार का उपयोग करें और इस झूठी सरकार को उखाड़ फेंकें। उन्होंने कहा कि यह सरकार फिर आई तो गांव में उनकी खेती तो तबाह होगी ही, मुम्बई में उनका कारोबार भी बरबाद होगा। उनकर यह काम मैसेज पूरे यूपी के प्रवासियों में गया, जो एक महत्वपूर्ण उपलब्धि है।

गुलाब शाह स्टेट में लोगो को सम्बोधित करते हुए कहा आफताब आलम ने कहा  कि, हमे बहन जी ने आशीर्वाद देकर डुमरियागंज में ख़िदमत के लिए भेजा, इसलिये आप लोगो की दुआएं लेने मुम्बई आया हूँ। अगर आपकी दुआएं मिली तो निश्चित तौर पर डुमरियागंज से सांसद बनकर दिल्ली में आप सबकी आवाज़ बनूगा। और आखिरी दम तक आपके अधिकार की लड़ाई लड़ूंगा। इस अवसर पर हाजी अरशद खुर्शीद (पूर्व प्रत्याशी इटवा), असलम खुर्शीद ने भी सभाओं को सम्बोधित किया।

इन कार्यक्रमों में तय्यब अली, अहमद सुहेल, अनवर मेहंदी (बीएमसी), शम्स तबरेज़ शबलू, आसिफ़, जावेद, शकील, शमशाद, करीमुल्लाह भाई, बादशाह खान, राजउल्लाह खान, विनोद पासी, मालिक ग्रुप, इफ्तेखार मालिक नासिबुल्ला कंपाउंड, शाहबाज मालिक, सलमान मालिक, सोमनाथ पाण्डे, शमशाद मालिक, अबरार चौधरी, सफतुल्लाह मनिहार, शहज़ाद चौधरी, मुनीर भाई, मुजीब, मसरूर, रौवाब, अकबर खान, कमरुद्दीन शाह, मौलाना सरवर साहब, मो० उमर भाई, अतहर भाई, हमीद, सय्यद, सरवर आलम, एखलाक, सिराज, हन्नान, कल्लू भाई, हारून, सिराज खान, नियाज़ खान, मतीउल्लाह, मो० शरीफ, राम बृक्ष,   आदि लोगों की भूमिका महत्वपूर्ण रही।

 

 

 

(933)

Leave a Reply