सरकार का झूठ समझ रही जनता, अब चक्कर में फंसने वाली नहीं- आफताब आलम

May 13, 2018 4:47 pm0 commentsViews: 242

नजीर मलिक

सिद्धार्थनगर। जिले की डुमरियागंज लोसभा सीट से बहुजन समाज पार्टी के घोषित उम्मीदवार  आफताब आलम उर्फ गुड्उू भैया ने कहा है। कि केन्द्र सरकार झूठे जुमलों और वायदों से देश की जनता को गुमराह करने के प्रयास में लगी है, लेकिन जनता केन्द्र व प्रदेश की असलियत जान चुकी है। इसलिए वह अब भाजपा और उसकी सरकारों के जाल और फरेब में नहीं आने वाली है।

रविवार को सिद्धार्थनगर के शोहरतगढ़ विधान सभा क्षेत्र के आधा दर्जन नुक्कड़ सभाओं को सम्बोधित करते हुये अफाताब आलम उर्फ गुड्डू भैया ने कहा कि देश संक्रमण काल से गुजर रहा है। यूपी ही नहीं पूरे देश मे भ्रष्टाचार व अराजकता चरम सीमा पर है। धर्म के नाम पर जनता को गुमराह किया जा रहा है। मगर जनता इन नारों के पीछे का सियासी सच जान चुकी है। अब वह उनके जाल में फंसने वाली नहीं है।

क्षेत्र के गनेशपुर, कोटिया बाजार, तुलसियापुर, बढ़नी आदि के भ्रमण और जनसभाओं के दौरान बसपा उम्मीदवार आफताब आलम ने कहा कि प्रधानमंत्री जी देश के इतिहास भुगोल से लेकर आर्थिक, राजनीतिक मामलों में निरंतर झूठ बोल रहे हैं। न ही वह वादे के मुताबिक किसी को  15 लाख रुपया दे पाये न विदेशों से काला धन ला पाये। उनका हर साल दो करोड़ नौजवानों को नौकरी देने का वादा भी पूरा नहीं हुआ। इसके बावजूद वह लगातार झूठ बोले जा रहे हैं। लेकिन जनता अब सच समझ रही है।

अंत में उन्होंने सभी को बसपा शासन की याद दिलाया जब अपराधी डर कर प्रदेश से भाग गये थे। उन्होंने विश्वास भी दिलाया कि यदि जनता ने आगामी लोकसभा चुनाव में उन्हें चुन कर भेजा तो वे बेरोगगार नौजवानों, कमजोर महिलाओं और परेशान किसानों के हक की लड़ाई लड़ेंगे। व्यापारियों के सम्मान के लिए उनकी आवाज संसद में उठायेंगे। स्थानीय स्तर पर भ्रष्टाचार के खिलाफ संघर्ष करेंगे।

इन कार्यक्रमों में बसपा के सर्वश्री पट्टू राम आजाद, राम मिलन भारती, , जिला अध्यक्ष दिनेश चन्द्र गोतम, बसपा नेता गुलाम नबी आजाद, शमीम अहमद, परवेज अहमद, मुनिराम राजभर, डा. ओम प्रकाश, सजाउद्दीन चौध्ररी, शुभकरन पटेल, अमजद अली प्रधान,  अरविंद कनौजिया, सुधीराम, रतन सागर, धर्मराज, चन्द्रिका प्रसाद गौतम, परती बाबा,  बसपा पूर्व जिलाध्यक्ष शेखर आजाद, मतीउल्लाह, महताब आलम और राजाराम लोधी ने भी अपने विचार व्यक्त किये।

,

 

 

 

(202)

Leave a Reply