पांचवी बार अजय चौधरी सपा अध्यक्ष मनोनीत, अनूप यादव को जिला उपाध्यक्ष की कमान

June 13, 2018 6:18 pm0 commentsViews: 649

अजीत सिंह

सिद्धार्थनगर। समाजवादी पार्टी की सिद्धार्थनगर जिला इकाई की घोषणा कर दी गयी है। सपा के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम द्वारा जारी लिस्ट के मुताबिक सपा नेता अजय कुमार उर्फ झिनकू चौधरी को 2007 से अब तक लगातार पांचवी बार लखनउ के हुक्म से अध्यक्ष नामित किया गया है। लखनउ की इस घोषणा से समाजवादी पार्टी के स्थानीय नेताओं में प्रत्यासा है।

प्रदेश सपा अध्यक्ष की विज्ञिप्ति के मुताबिक अजय चौधरी को जिला अध्यक्ष नामित किया गया है तथा सपा नेता बिरेंद्र तिवारी, अनूप यादव व सरफ्रराज भ्रमर को उपाध्यक्ष बनाया गया है। इसके अलावा अफसर रिजवी पार्टी के महासचिव व बाल कृष्ण उर्फ बलई को कोषाध्यक्ष पद पर मनोनीत किया गया है।

इसके अलावा पुराने सपा नेता तौलेश्वर निषाद सहित तेज प्रताप सिंह, निरंकार सिंह, उदयभान तिवारी, अजय कुमार यादव, रामचन्दर चौरसिया, कृष्ण कुमार त्रिपाठी, तुफैल अहमद, कृष्णनाथ यादव और हरिराम यादव को जिला सचिव मनोनीत किया है।

सोनू यादव को कार्यकारिणी में जगह

सपा के नौजवान और तेजतर्रा नेता श्रीष प्रताप यादव उर्फ सोनू यादव को पहली बार कार्यकारिणी में स्थान मिला है। माना जा रहा है कि सोनू को उनकी काबिलियत और समझ को देखते हुए यह जिम्मेदारी सौपी गयी है। पार्टी के बड़े नेताओं को इनसे काफी अपेक्षा है।

उक्त मनोनयन से पूर्व विस अध्यक्ष माता प्रसाद पांडे, मो० सईद भ्रमर, सपा नेता चिन्कू यादव, उग्रसेन सिंह, पूर्व विधायक विजय पासवान, नगर पंचायत उस्का बाजार के अध्यक्ष प्रतिनिधि सुरेश यादव, चंद्रजीत यादव, राजकुमार जायसवाल, अब्दुल कलाम सिददीकी, जान मोहम्मद सहित कई लोगों ने बधाई दी है।

जानिये क्या चीज हैं अनूप यादव

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के अनुमोदन पर जिले की कार्यकारिणी में सपा के वरिष्ठ नेता को जिला उपाध्यक्ष बनाया है। आपको बतादें कि जब से समाजवादी पार्टी बनी है अनूप कुमार यादव  ने समाजवादी पार्टी में रहकर संघर्ष करते हुए पार्टी के अनेक महत्वपूर्ण पदों पर रहकर निष्ठापूर्वक अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन किया है। लगभग 20 वर्षों से नगर पालिका परिषद सिद्धार्थनगर में सभासद के रूप में और संगठन के भी नगर अध्यक्ष जिला सचिव एवं छात्रसभा के जिला अध्यक्ष के रूप में काम किया है।

इन्होंने कभी राजनीतिक जीवन में दल बदल नहीं किया इसीलिए यह अखिलेश यादव के बहुत करीबी माने जाते हैं। उनकी कर्मठता और संघर्ष को देखकर ईमानदार छवि होने के नाते सपा मुखिया अखिलेश यादव ने जिले की महत्वपूर्ण पद पर जिम्मेदारी की कमान सौंपते हुए इनका गौरव व सम्मान बढ़ाने का काम किया है। समाजवादी पार्टी के क्रांतिकारी एवं प्रखर वक्ता के रूप में इनकी अलग पहचान है। अन्याय के खिलाफ संघर्ष करना इनकी फितरत है। बगावती और विद्रोही तेवर  होने के नाते इनकी अलग पहचान है

(589)

Leave a Reply