औसाफ़ मलिक पीसीएस परीक्षा में चयनित, मलिकवंशियों में जश्न

August 19, 2017 1:07 pm0 commentsViews: 1340

नज़ीर मलिक


सिद्धार्थनगर । डुमरियागजं तहसील के ग्राम पेंडारी के मलिक औसाफ़ अहमद पीसीएस परीक्षा में कामयाब हुए है। उनकी कामयाबी पर इलाके में जश्न मन रहा है।सिद्धार्थनगर के मलिक वंश के वह दूसरे पीसीएस हैं। इससे पूर्व पेंडारी के करीब तेतरी गाँव को ये सर्फ़ हासिल हुआ था।
मलिक औसाफ़ का परिवेश भले ही ग्रामीण रहा हो, लेकिन अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में जाकर उन्होंने अपने इरादे को मज़बूत बनाया। अंततः वो उत्तराखण्ड में पीसीएस की प्रतिष्ठित परीक्षा में सफल होकर क्षेत्र का मान बढ़ाने में कामयाब रहे। उन्होंने इस कारनामे से ग्रामीण क्षेत्र के प्रतियोगी छात्रों के लिए एक प्रेरणा और मिसाल भी पेश किया है ।
मलिक औसाफ पीआईसी डुमरियागँज से हाई स्कूल और स्नातक अलीगढ़ युनिवर्सिटी से किया है। वो पेंडारी निवासी डॉक्टर अहमदुल्लाह मलिक के तीसरे पुत्र हैं। डॉ अहमदुल्लाह मलिक भी क्षेयर के प्रतिष्ठित चिकित्सक रहे।
बताते चलें कि औसाफ़ मलिक से पहले ग्राम तेतरी निवासी मलिक अब्दुल गनी मलिक वंश के पहले पीसीएस बने थे। वो समाजसेवी और कांट्रेक्टर पप्पू मलिक के वालिद हैं।
औसाफ़ के चयन पर डुमरियागंज में काफी हर्ष व्याप्त है। उनकी कामयाबी पर पूर्व मंत्री कमाल युसूफ मलिक, ज़हीर मलिक, इरफ़ान मलिक, बब्बर मलिक, सलीम मलिक, ज़फ़र उर्फ़ पप्पू मलिक, आस्लाम खान, शमीम अंसारी आदि ने मुबारकबाद दी है।
इस बारे में बात करते हुए मलिक औसाफ ने कहा कि उनकी कामियाबी के पीछे देस्तों और परिवार के लोगों की दुआएं और हौसला आफजाई शामिल हैं । उन्होंने कहा कि कामियाबी पाने के लिए ऐसी परीक्षाओं में केवल किताबी कीड़ा ही बनना ज़रूरी नहीं, बल्कि अपने इर्द गिर्द घटने वाली सामाजिक आर्थिक एवं राजनीतिक घटनाओं पर भी नज़र रखने ज़रूरी है।

 

Leave a Reply