बानगंगा नदी की धारा को सीधा करने की कवायद, तमाम किसानों को होगा फायदा

February 12, 2019 1:03 pm0 commentsViews: 285

निज़ाम अंसारी

बानगंगा नदी और उसका घुमाव, जिसे सीधा करना है

शोहरतगढ़, सिद्धार्थनगर। उपनगर से सटे बहने वाली बानगंगा नदी, बानगंगा बैराज के पास सीधी की जायेगी। इसके लिए प्रशासन ने कवायद शूरू कर दी है। यह योजना पूर्ण हुई ो काफी किसानों को फयदा होगा और कई गांवां की सूरक्षा भी हो सकेगी।

प्रशासन के सूत्रों बताया कि क़स्बा शोहरतगढ़ से सटे बानगंगा बैराज तहसील क्षेत्र के लिए एक पिकनिक स्पॉट के साथ साथ जनपद के हजारों एकड़ भूमि को सिंचाई का बेजोड़ साधन है ।  यह नदी नेपाल के पहाड़ों से निकल कर तहसील शोरतगढ़ में भारत में प्रबेश करती है।नेपाल से भारत की सीमा में दो गाओं के बीच इसकी साधी धारा बहा करती थी।  पक्षिम धनौरा मुस्तहकम गांव और पूर्व में बगुलाहवा के बीचों बीच से बहते हुवे बैराज पर पहुँचती थी ।

समय के प्रभाव ने इसकी धारा का रुख साल 2000 में धनौरा गांव से सटे बंधे की तरफ होना शुरू हुवा बाढ़ के साथ साथ धनौरा गांव के लोगों की जमीन जो बंधे और नदी की मुख्य धारा के बीच थी उसको भी निगल गयी जिसमें कुछ छोटे कास्तकारों को अपनी जमीन से हाथ धोना पड़ा और कइयों की जोत का रकबा काफी हद तक घट गया था। साल 2011 बीतते बीतते नदी ने अपनी धारा मोड़कर बगुलाहवा गांव से सटे बंधे की तरफ कर लिया जिससे परेशानी लगभग आधा दर्जन गाओं को होने लगी।

प्रशासनिक सू़त्रों के अनुसार अब सिंचाई विभाग की तरफ से उपरोक्त दोनों गावों के तटबंध के बीचों बीच से आधा दर्जन जे सी बी और पोकलैंड मशीनों के द्वारा खुदाई का काम जोरो पर है। सूत्र बताते हैं कि नदी की धारा को फिर से सीध में लाया जाएगा, जिससे नदी की मुख्य धारा से दोनों तरफ के गाओं की दूरी बढ़ जायेगी और आने वाले समय में बाढ़ की त्रासदी भी कम होगी । बरसात आने से पहले पहले इस काम को हर संभव पूरा होने की उम्मीद है।

बताते चले की इस तरह का एक प्रयास लगभग दो वर्ष पहले भी किया गया था परंतु बारिश का मौसम करीब होने के कारण इस योजना को अधूरा ही छोड़ना पड़ा उम्मीद है कि इस बार यह प्रोजेक्ट पूरा हा जाएगा।

(277)

Leave a Reply