डुमरियागंजः बागी उम्मीदवार और हियुवा नेता श्याम सुंदर के आंसुओं में डूब गये भाजपा के कई किले

November 28, 2017 4:53 pm0 commentsViews: 2037

 

––– रैली में हजारों की भीड़ स्वेच्छा से आई थी, प्रत्याशी का सवाल कि त्याग हमने किया और टिकट थैली शाह को क्यों मिला?

नजीर मलिक

सिद्धार्थनगर। राजनीति कैसे करवट लेती है, यह कल डुमरियागंज नगर पंचायत से भाजपा के बागी उम्मीदवार श्याम सुंदर अग्रहरि के विशाल जुलूस और उनकी सभा से मिला। श्याम सुंदर के आंसुओं में डूबे पार्टी से निष्ठा के प्रति सवालों ने सबको हिला कर रख दिया। कल उनके आंसुओं के सैलाब में भाजपा के कई किले ( मुहल्ले) ढह गये।

हिंदू युवा वाहिनी के नेता रहे और भाजपा के बागी उम्मीदवार श्यामसुंदर अग्रहरि ने कल चुनाव प्रचार के अखिरी दिन जूलस निकाला। दिन के 11 बजे शुरु हुए उनके जुलूस में छोटी सी नगर पंचायत में कई हजार लोग शामिल थे।  जुलस ने तीन घंटे नगर का भ्रमण किया। झााई बजे सभा हुई।

अपने भाषण में  श्याम सुंदर अग्रहरि ने लोगों से एक सवाल पूछा। उन्होंने कहा कि हिदू अस्मिता की रक्षा के लिए उन्होंने अपना घर जमीन बेचा, डुमरियागंज (शाहपुर) में हिंदू भवन बनाया। विधानसभा उम्मीदवार राघवेन्द्र जी के चुनाव में हम सब लड़ रहे थे, तो वर्तमान भाजपा उम्मीदवार उन्हें बाहरी कहा कर ‘राघवेन्द्र भगाओ’ का नारा लगा रहे थे।

श्याम सुंदर ने कहा कि हिंदुओं बताओ कि असली हिंदू रक्षक कौन है?  भाजपा उम्मीदवार या मै? भाषण के दौरान उनके आंसुओं के एक–एक कतरे पर लोगों का नारा उनकी पोजीशन को मजबूत बना रहा था। कल के इस प्रदर्शन के बाद डुमरियागंज में भाजपा खेमे में बेचैनी है। मतदान से ठीक पूर्व डुमरियागंज के हियुवानेता और  विधायक राघवेन्द्र के  नगर से बाहर होने से भी लोगों के बीच भाजपा के प्रति नकारात्मक संदेश जा रहा है। फिलहाल भाजपा समर्थक और हिंदुत्ववादी मतों में श्याम सुंदर की लहर है, बाकी देखना है कि चुनावी ऊंट किस करवट बदलता है।

(1895)

Leave a Reply