गैर जिले के एक वरिष्ठ सपा नेता भाजपा में शामिल होकर डुमरियागंज से टिकट के प्रयास में?

November 2, 2018 11:49 am0 commentsViews: 2548

नजीर मलिक

सिद्धार्थनगर। यों तो डुमरियागंज लोकसभा सीट से भाजपा के मौजूदा सांसद जगदम्बिका पाल को टिकट की चुनौती देने के लिए उनकी पार्टी के ही कई नेता ताल ठोंक कर मैदान में हैं। मगर हाल में एक गैर जनपद और गैर भाजपाई नेता द्धारा भाजपा में शामिल होकर टिकट हासिल करने के प्रयास ने भाजपा की अंदरूनी राजनीति गरमा दी है। संतकबीर जिले के उस नेता का नाम बड़े और मौकापरस्त नेताओं में शुमार है। अगर वह अपनी मौजूदा पार्टी छोड कर भाजपा में शामिल होता है तो सांसद पाल के लिए बड़ा संकेत हो सकता है।

अंदाजा लगाइये की संतकबीर नगर जिले का वह समाजवादी नेता कौन हो सकता है। वह नेता जी सिद्धार्थनगर में पहले भी राजनीति कर चुके है। स्काईलैब की तरह ये नेता कभी सिद्धार्थनगर की राजनीत में उतरे और निरंतर पराजयों के फलस्वरूप फिर संतकबीर नगर लौट गये। वह फिर वह झक मार कर अपनी पुरानी पार्टी सपा में शामिल हो गये। लेकिन वह कभी सपाई रहे नहीं। सत्ता ही उसकी अभीष्ट रही। यही करण है कि वे निरंतर दल बदलते रहे। सत्ता के लिए वह एक बार फिर गिरगिट की तरह रंग बदलने के प्रयास में हैं।

खबर है कि बसपा से गठबंधन की आस में अखिलेश यादव ने संतकबीर नगर जनपद की सीट बसपा के लिए तय कर दिया है। वहां से बसपा के कुशल तिवारी की उम्मीदवारी लगभग तय है। इसे समझते ही उन नेता जी ने सपा को छोड़ भाजपा का दामन थामने और डुमरियागंज से भाजपा उम्मीदवार बनने की कोशिश शुरू कर दी है। इसके लिए उनने भाजपा के कुछ बड़े नेताओं को पटाया है, खबर है कि भाजपा के एक बड़े नेता ने उसे टिकट का अश्वासन भी दे दिया है।

अगर भाजपा उन नेता जी को भाजपा में शामिल करती है तो जाहिर है कि वह टिकट के अश्वासन पर ही भाजपा ज्वाइन करेंगे।एसे में अगर उनने भाजपा ज्वाइन की तो इसका मतलब सांसद पाल के लिए खतरे की घंटी होगी। इसके साथ ही भाजपा का दुर्भाग्य भी होगा कि वे उस नेता को पार्टी में लेंगे, जिसने अतीत में सिद्धार्थनगर के भाजपाइयों को बुरी तरह अपमानित किया है।

इस मामले में पार्टी के एक सूत्र का कहना है कि अगर ऐसा हुआ तो पार्टी डुमरियागंज की लोकसभा सीट नामांकन के दिन ही हार जायेगी। भाजपा कार्यकर्ता अतीत में अपने नेताओं का अपमान भूले नहीं हैं। ऐसे में वे उस स्काईलैब नेता को कभी स्वीकार न कर सकेंगे। फिलहाल उन नेता जी का भाजपा में शामिल होने का उच्च स्तर पर प्रयास चल रहा है। देखें ऊंट किस करवट बैठता है।

(2523)

Leave a Reply