नीबी दोहनी में फिर हुई रहस्यमय मौत, पूरा टाउन ताज्जुब में

October 3, 2018 3:58 pm0 commentsViews: 680

निजाम अंसारी

शोहरतगढ़ थाना क्षेत्र के कस्बा शोहरतगढ़ से सटे नीबी दोहनी गाँव में लगातार हो रही मौतों का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। अभी गांव वाले संदिग्ध माधुरी हत्याकाण्ड की घटना को भूल भी नहीं पाये थे कि गांव के 28 साल के कन्हैया भारती की रहस्यमय हत्या ने पूरे टाउन को फिर चौंका दिया।

जानकारी के मुताबिक कन्हैया भारती पुत्र रामदयाल 28.सितम्बर शुक्रवार की शाम को अशोगवा ( चेतिया ) जाने के लिए निकला और उसके बाद लापता हो गया। घर वाले उसे तलाशने में परेशान थी। अचानक चिल्हिाया थाने में 1 अक्टूबर को पाई गई एक लाश की पहचान कन्हैया के रूप में हुई। उसकी लाश 28 सितम्बर को चिल्हिया थाने में पाई गई थी।

कन्हैया की मौत को लेकर यहां काफी चर्चा है। पुलिस इसे सामान्य मौत मान रही है। दूसरी तरफ इस पीट पीट कर की गई हत्या की बात कहने वालों की कमी नहीं है। स्वय मृते की मां गोर्रा देवी और पत्नी शीला का कहना है कि उन्हें पता चला है कि कन्हैया  को पहले संतोरा गांव में छेड़छाड़ को लेकर मारा पीटा गया, जिससे उसकी मौत हो गई। अब उसकी विधवा अपनी 9 ताह की बच्ची को कैसे पालेगी, यह बड़ा सवान है।

कन्हैया के परिवार मे माता गौर्रा व पिता रादमयाल के अलावा 7 भाई बहन है, जिसमें 2 बहनों की शादी हो गयी है। कमाने के नाम पर कन्हैया मेहनत मजदूरी करके अपना और अपने परिवार का भरण पोषण करता था। उसकी मौत के बाद भाई चन्द्रकान्त (22), हीरारत्न (20), राज (7), अजय (5), बहन आशा (10) की जिम्मेदारी पिता के कन्धे पर बढ़ गयी है। घटना के बाद परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

अब सवाल यह है मेहनत मजदूरी करने वाला व्यक्ति किस हालात में चिल्हियां थानाक्षेत्र में पहुँचा जहां उसकी लाश मिली? क्या वह शोहरतगढ़ से बाहर जा रहा था। क्या वह किसी घटना का शिकार हुआ? क्या वह अकेले जा रहा था, जिसकी सूचना घरवालों को भी नहीं थी। बहरहाल पी.एम. रिपोर्ट आने के बाद ही स्थिति स्पष्ट हो पायेगी।

(634)

Leave a Reply