भाजपा राज में सांसद, विधायक सिर्फ अपने विकास में लगे हैं- आफताब आलम

May 7, 2018 6:22 pm0 commentsViews: 227

अजीत सिंह

सिद्धार्थनगर। बसपा के जिला मुख्यालय स्थित केन्द्रीय कार्यलय पर आयोजित सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए डुमरियागंज लोकसभा सीट से पार्टी उम्मीदवार आफताब आलम उर्फ गुड्डू भैया ने कहा है कि  सूबे में कानून व्यवस्था ध्वस्त है। विकास के नाम पर सत्ता पक्ष के जनप्रतिनिधि केवल अपने विकास में लगे हुए हैं। जनता इनसे इंसाफ और तरक्की की उम्मीद नहीं कर सकती। बसपा शासन में शेर और बकरी एक घाट से पानी पीते थे।

आज यहां पार्टी सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए आफताब आलम ने कानून व्यवस्था का बहुत दर्दनाक खाका पेश किया। उन्होंने कहा कि सूबे में छोटी छोटी बच्चियों की अस्मत लूटी जा रही है और यह सरकार पीड़ित के आंसू पोछने के बजाये रेपिस्टों के बचाव का काम कर रही है। हर तरफ अपराधों का बोलबाला है और और सरकार लोगों को जाति धर्म के तुद्दों में उलझाा कर भटका रही है।

आफताब आलम ने कहा कि देश विश्व में पिछड़ता जा रहा है। इसे खुद प्रधानमंत्री जी स्वीकार कर चुके हैं। इसके बावजूद वे विकास कार्य को तरजीह देने के विदेशी दौरों में व्यस्त हैं। डुमरियागंज देश का अति पिछड़ा जिला है और हमारे सांसद व देश की संसद को इसकी कोई चिंता नही है। सच तो यह है कि यह सरकार विकास का ढिंढोरा तो पीट रही है, लेकिन इनके जनप्रतिनिधि जनता के बजाये खुद का विकास करने में लगे हैं।

उन्होंने कहा कि पीएम मोदी जी और सीएम योगी जी से सह सवाल पूछा जाना चााहिए कि सालाना दो करोड़ नौकरी देने, काला धान लाकर हर आदमी के बैंक में पन्द्रह लाख देने के वादे का क्या हुआ।  शिक्षा को महंगी कर दी गई, जीएसटी के माध्यम से छोटे व्यापारियों की कमर तोड दी गई। आखिर  इस सरकार के किस जनहित के काम के नाम पर इनकी सराहना की जाये?

उन्होंने कहा कि जनता को बहन जी के शासनकल को याद करना होगा। उनके राज में गुंडे प्रदेश छोड़ कर भाग गये थे। उस समय शेर बकरी एक घाट से पानी पीते थे। गुंडागर्दी करने पर अपराधियों के सख्त कार्रवाई होती थी कई बार तो बहन जी के शासन काल में बसपा में घुस आये गंडा तत्वों को भी जेल भेजा गया। इस कारण बसपाकि अपराधी करण नहीं हो सका। इसीलिए बसपा राज में कानून व्यवस्था ठीक रही।

(190)

Leave a Reply