सिद्धार्थनगर में कोरोना के सात और मरीज पाये गये, कुल मरीजों की तादाद 44 पहुंची, अब बढ़ने लगा खौफ

May 17, 2020 12:47 pm0 commentsViews: 2662

…… गांवों में बनी निगरानी समतियां हुई फेल, नहीं उठा पा रहीं जिम्मेदारी का बोझ

नजीर मलिक

 

सिद्धार्थनगर। बुधवार को सिद्धार्थनगर में कोरोना के 7 नये मरीजों की जानकारी प्रकाश में आई है। इसीके साथ यहां कोरोना के रोगियों की तादाद बढ़ कर 44 हो गई है। चीफ मेडिकल आफिसर डा. सीमा राय ने खबर की पुष्टि की है। पिछले एक सप्ताह में मरीजों की बढ़ती संख्या देख कर इसके खतरे के भयावह होने की आशंका खड़ी हो गई है। डा. राय ने 17 मरीजों के ठीक होने का दावा भी किया है।

सीएमओ डा. सीमा राय के मुताबिक नये पाये गये सातों मरीजों में तीन बांसी, दो शोहरतगढ़ तहसील और एक एक जोगिया व खुनियाव क्षेत्र के है।  इको टेस्ट  गत 13 मई को भेजा गया था। जिसकी पाजिटिब रिपोर्ट कल देर शाम आई है। यह सभी बाहर के प्रांतों से पलायन कर आये थे। डा. सीमा राय ने लोगों से सोशल डिस्टेंस बनाने तथा भीड़ भाड़ से दूर रहने की अपील की है। डा. राय के मुताबिक इस रोग से बचाव का तरीका एक दूसरे से दूरी बनाना ही है।

बता दें कि जिले में इससे पूर्व करोना मरीजों की तदाद कल शुक्रवार तक 37 थी, जो शनिवार को बढ़ कर 44 हो गई। इस बारे में जानकारों का कहना है कि महानगरों से लोगों की लगातार  वापसी तथा एक दूसरे से शरीरिक दूरी न बनाने के कारण जिले में यह रोग अब व्यापक रूप लेता नजर आ रहा है। ऊपर से दुकानों पर मास्कों, सेनेटइजर आदि की कमी भी देखी जा रही है।

जागरूक लोगों को आमतौर से कहना है कि इसे समय से न रोका गया तो हालात खराब हो सकते हैं। इस मामले में ग्रामों में बनाई गई निगरानी समितियों की लापरवाही खुल कर सामने आई है।  राजनीतिक कारणों से अगर प्रधान कोरंटाइन में गये लोगों को बाहर घूमने से रोकते हैं तो जल्द होने वाले चुनाव में इसका असर पड़ सकता है। इसलिए होम कोरंटाइन की अवधारणा फेल होती नजर आ रही है।

 

 

 

 

 

(2614)

Leave a Reply