रोते कलपते किसान परिवारों की मदद को आगे आये कई सियासतदान

April 13, 2016 6:58 pm0 commentsViews: 429

नजीर मलिक

ग्राम कछ्रिरहवा में पीड़ितों को राशन बांटते राज परिवार के सदस्य कुंवर धनुर्धर प्रताप सिंह और लोगों का दर्द साझा करतीं राज्य महिला आयोग की सदस्य जुबैदा चौधरी

ग्राम कछ्‍िरहवा में पीड़ितों को राशन बांटते राज परिवार के सदस्य कुंवर धनुर्धर प्रताप सिंह और लोगों का दर्द साझा करतीं राज्य महिला आयोग की सदस्य जुबैदा चौधरी

सिद्धार्थनगर। पिछले एक सप्ताह से जिले में चल रही भारी आगलगी से पीड़ित परिवारों का दुख साझा करने के लिए जिले के तमाम सियासतदान घरों से निकल आये हैं। सभी अपने अपने हिसाब से पीड़ितों के बीच काम कर रहे हैं। कई लोगों ने राज्य सरकार से इस आपदा के लिए विशेष राहत की मांग की है।

खबर के मुताबिक शोहरतगढ़ राजपरिवार के सदस्य और राजा योगेन्द्र प्रताप के पुत्र कुंवर धनुर्धर प्रताप सिंह आज सुबह आठ बजे बढ़नी ब्लाक के ग्राम तोलिहवा के टोला कछिरहवा में पहुंचे। वह अपने साथ भारी मात्रा में चावल और गेहूं भी ले गये थे। उन्होंने गांव के सभी 70 अग्नि पीड़ितों को बीस किलो चावल और गेहूं प्रदान किया।

कुंवर धनुर्धर सिंह ने बताया कि शोहरतगढ़ के अग्निपीड़ितों को उनके परिवार मदद का काम जारी रहेगा। वह पीड़ित गावों के जरूरतमंदों की सूची बना रहे हैं। उन्हें उनकी आवश्यकता के हिसाब से मदद देने की कोशिश की जायेगी।

इसके अलावा शोहरतगढ क्षेत्र में सपा नेता जुबैदा चौधरी भी कछिरहवा समेत लालपुर, भुतहवा मटियार आदि गांवों में अपने समर्थकों  के साथ पहुंचीं और लोगों को प्रशासन से मदद दिलाने का भरोसा दिलाया।

डुमरियागंज क्षेत्र में भजपा नेता और पूर्व जिलाध्यक्ष नरेन्द्रमणि त्रिपाठी ने भी ग्राम बरहपुर लालाजात, चकमारूफ, बयारा आदि गांवों का दौर कर किसानों को सांत्वना दिया। उन्होंने कुछ बेहद जरूरतमंद पीड़ितों को आर्थिक मदद भी दी।

दूसरी तरफ विधायक प्रतिनिधि उग्रसेन सिंह ने कई गांवों में पहुंच कर किसानों को आर्थिक मदद दी। क्षेत्रीय सांसद जगदम्बिका पाल ने पथरा क्षेत्र में दर्जनों पीड़ितों से मुलाकात कर उन्हें कबंल और आर्थिक सहायता दिया।

इसके अलावा डुमरियागंज क्षेत्र के विधायक कमाल यूसुफ मलिक, बसपा प्रभारी सैयदा मलिक और सपा नेता चिंनकू यादव ने भी अपने क्षेत्र में पीड़ित किसानों से मुलाकात की और उन्हें यथा शक्ति मदद भी दी। सांसद पाल ने पीड़ित किसानों को १५ हजार बीघे की दर से मुआविजा देने की सरकार से मांग की।

(1)

Leave a Reply