गोरखपुरः सपा ने भाजपा की मांद में घुस कर छीनी जीत, चुनाव परिणाम घोषित नहीं कर रहे डीएम, अफवाहों का दौर शुरू

March 14, 2018 5:18 pm0 commentsViews: 1788

— चुनाव नतीजों की घोषणा न होने से आक्रोश, अखिलेश यादव आज देर शाम पहुंच सकते हैं गोरखपुर

—डीएम ने सबसे लिया पंगा, चुनाव प्रेक्षक से भिड़े, मीडिया को खदेड़ा, प्रेस क्लब अध्यक्ष से हुई बदसलूकी

नजीर मलिक

नेट फोटो

” यूपी के गोरखपुर के उपचुनाव की काउंटिंग समाप्त हो गई है, मगर 4 घंटों से नतीजों का एलान डीएम गोखपुर द्धारा नहीं किया जा रहा है।  खबर है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ की छोड़ी संसदीय सीट गोरखपुर पर समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार को भाजपा से 65 हजार से अधिक वोट मिले हैंं। राजनीतिक विश्लेषकों द्धारा सपा की इस जीत को भाजपा की मांद में घुस कर छीनने की संज्ञा दी जा रही है। भाजपा गोखपुर सीट पर 1889 से अब तक अपराजित रही थी। इस हार से भाजपा को बहुत करारा धक्का लगा है। दूसरी तरफ जिलाधिकारी गोरखपुर द्रारा चुनाव नतीजे की घोषणा न करने से शहर में भांति भांति की अफवाहें उड़ रही हैं। डीएम के व्यवहार को लेकर सपा लखनऊ में प्रेस कान्फ्रेंस कर रही तो खुद अखिलेश यादव गाेरखपुर पहुंचने की तैयारी में हैं।”

कितने की है अनुमानित जीत?

खबर है कि गोरखपुर के डीएम राजीव कुमार रौतेल ने अभी आफिशियल नतीजों की घोषण नहीं की है। जबकि मतगणना समाप्त हुए ती घंटे हो चुके हैं। इसको लेकर वहां उनसे बाद विवाद भी जारी है, लेकिन मतगणना स्थल के सूत्रों ने इसकी पुष्टि कर दी है कि  इस सीट से समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी प्रवीण निषाद 65  हजार अधिक मतों से चुनाव जीत गये हैं। भाजपा प्रत्याशी उपेन्द्र दत्त शुक्ला यहां से दूसरे स्थान पर रहे। कांग्रेस प्रत्यशी डा.सुरहीता करीम को बड़ी शिकस्त मिली और वे 20 हजार से कम मत पाकर अपनी जमानत तक गवां बैठी।  किसकों कितने वोट मिले यह स्पष्ट नहीं हो पा रहा है।

बताया जाता है कि मतगणना के पहले राउंड में भाजपा उम्मीदवार उपेन्द्र दत्त शुक्ल आगे थे। लेकिन दूसरे राउंड के बाद वे निरंत पिछड़ना शुरू हुए और 25 राउंड तक 15 हजार से अधिक मतों से आगे हो गये। इसके बाद सपा की लीड बढती गई और आखिरी के तीन चार राउंड में तो सपा उम्मीदवार प्रवीण यादव को इकतरफा वोट मिले। इस प्रकार उनकी लीड लगभग 65 हजार के आस पास पहुंच गई। इसी के साथ्र मतगणना भी खत्म हो गई।

डीएम की मीडिया और चुनाव प्रेक्षक से हुई तीखी नोकझोंक

दूसरी तरफ मतगणना खत्म होने के बावजूद वहां के डीएम राजीव रौतेला नतीजे का एलान रोके हुयें हुए हैं। इससे वहां नोक झोंक शुरू हो गई है। इससे पहले प्रेक्षक के मतगणना का असली फीगर न मिलने से उनकी डीएम से नोक झोंक हो चुकी है। मतगणना में पारदर्शिता को लेकर आज शुरुआत में वहां मीडिया और डीएम के बीच विवाद हुआ तथा अनेक मीडियाकर्मियों को वहां से खदेड़ दिया गया। इसके बाद सपा के लगभग 20 मतगणना एजेंटों को बाहर किया गया। बहरहाल डीएम रौतेला द्धारा पैदा किये इस माहौल में किसी तरह मतगणना सम्पन्न हुई तो अब डीएम रौतेला आफिशियल घोषणा रोके हुए हैं। इससे लोगों में बेचैनी बढ रही है।

सपा बसपा के लाेग मना रहे जश्न  

बताया जाता है कि इस जीत के बाद सपाइयों और बसपाइयों ने गोरखपुर क्षेत्र में जम कर अबीर और गुलाल खेले। आखिर खेलते क्यों न इतनी प्रतीक्षा के बाद खुशी का मौका जो आया था।सपा जिलाध्यक्ष प्रहलाद यादव  और बसपा जिलाध्यक्ष घनश्याम राही का कहना है कि इस बार एक हमने उन्हें गोरखपुर से निकाला है। अगली बार पूरे प्रदेश से उखाड़ फेंकेंगे। समाचार लिखे जाने तक चुनाव परिणाम का एलान नहीं हुआ था।

बसपा विधायक विनय शंकर तिवारी बोले

इस उपचुनाव में ब्रहमण मतों को सपा के खेमे में लाने वाले रणनीतिका और बसपा विधायक विनयशंकर तिवारी का कहना है कि काउंटिंग एजेंटों के मुताबिक सपा प्रत्याशी प्रवीण निषाद जीत गये हैं, लेकिन जब तक अधिकृत चुनाव परिणाम न घोषित हो जाये तब तक क्या कहा जा सकता है।  उन्होंने कहा कि उम्मीद है कि कुछ देर में सुखद घोषणा हो जायेगी।

चिनकू यादव ने दी बधाई

सपा नेता और सिद्धार्थनगर जिले के डुमरियागंज से सपा प्रत्याशी रहे चिनकू यादव और उनके समर्थकों ने गोरखपुर में प्रवीण निषाद की जीत पर जम कर जश्न मनाया और विजेता प्रवीण निषाद को जीत की। इस मौके पर  उन्होंने कहा कि यह तो शुरुआत है। आने वाले लोकसभा चुनाव में भाजपा उत्तर प्रदेश में गूलर का फूल बन जायेगी। यह फूल ढूंढने से भी नहीं मिलता है।

 

 

 

(1788)

Leave a Reply