पैसा न देने पर थानाध्यक्ष ने निर्दोष ड्राइवर को पीट कर हाथ पैर तोड़ डाला

October 9, 2017 1:32 pm1 commentViews: 586

नजीर मलिक

सिद्धार्थनगर। जिले के ढेबरुआ थाने के इंचार्ज ने रिश्वत का पैसा न मिलने पर एक ट्रक ड्राइवर की इतनी पिटायी की कि उसका हाथ पैर टूट गया। ड्राइवर फिलहाल अस्पताल में दाखिल है।इस घटना से स्थानीय व्यापारियों आक्रोश है। उनके प्रतिनिधिमंडल ने पुलिसअधीक्षने एसपी से मिल कर न्याय की मांग की है।घटना कल की है।

बताया जाता है कि ढेबरुआ पुलिस बढ़नी तिराहे पर खड़ी होकर दिन रात वसूली करती है। चुंकि यहां से प्रतिदिन सैकड़ों ट्रकें नेपाल जाती हैं इसलिए इस तिराहेसे अवैध वसूली भारी मुनाफे का काम है। इधर पुलिस ने ट्रकों की फीस में दोगने की बढ़ोत्तरी कर दी है।

 

बताया जाता है कि कल ढेबरुआ के थाना इंचार्ज खुद ही मौके पर थे। वसूली के दौरान उसी क्षे़त्र के व्यापारी अब्दुर्रब का ट्रक ड्राइवर बिना पैसे दिये ट्रक लेकरआगे बढ़ने लगा। इसी बात पर एसओ ढेबरुआ जयवर्धन सिंह ने उसे ट्रक से उतार लाठियोंसेपीटा। इस पिटाई से उसका हथ टूट गया और पैर में भी फ्रैक्चर होगया। तब जाकर पुलिस ने उसे छोड़ा।घटना के बाद उसे अस्पताल ले जाया गया।

इस बारे में ट्रक मालिक अब्दुर्रब ने बतायाकि पुलिस इस समय ट्रक वालों से जम कर धनउगाही कर रही है। पैसे नदेने पर ड्राइवरोंकोपीटना आम बात हो गयी है। उन्होंने कहाकिघटना की जानकारी अफसरों की दी जा चुकी है। अगर उन्होंनेमाकूल कार्रवाई नहीं की  तो व्यापारी चक्का जाम करेंगे।क्योंकि अब स्थानीय पुलिस की ज्यादती असहनीय हो गई है।

 

 

 

(8)

1 Comment

  • Nitya Nand Singh

    लगता है कि उत्तर प्रदेश पुलिस को कोई भी सरकार सुधार नहीं पायेगी, क्योंकि धन उगाही और रिश्वतखोरी के साथ ही भ्रष्टाचार इस विभाग का संस्कार बन गया है।

Leave a Reply