मंदिर मस्जिद नहीं, पूंजीपतियों और मजदूर किसानों के बीच है आगामी चुनाव- आफताब आलम

January 5, 2019 4:19 pm0 commentsViews: 289

नजीर मलिक

सिद्धार्थनगर। भारतीय जनता पार्टी भले जनता के बीच भले ही मंदिर बनाम मस्जिद के मूद्दे को तूल दे रही है, मगर अंदर से उसका समर्थन अंबानी, अडानी जैसे पूंजीपतियों को है।  सरकार उन्हें तमाम प्रकार के लाभ दे रही है। दूसरी तरफ किसान, मजदूर, बेरोजगार नौजवान हर तरफ से मारे जा रहे हैं। इसलिए इस वर्ग को एकजुट होकर पूंजीपति समर्थक मोदी सरकार को शिकस्त देनी होगी।

यह बात बसपा नेता और डुमरियागंज लोकसभा सीट से बसपा के घोषित प्रत्याशी आफताब आलम ने कही। वह शनिवार को इटवा विधानसभा क्षेत्र के ग्राम  बसंतपुर, लमुईया, नवडिवा, इमिलया, डेगहर, बरगदवा  में आयोजित सभाओं में बोल रहे थे। इन सभाओं में उन्होंने कहा कि आगीमी चुनाव बेराजगार नौजवानों, किसानों, मजदूरों बनाम भाजपा संरक्षित पूंजीपतियों के बीच है। इसलिए जनता को मंदिर- मस्जिद के सवालों में न फंस कर अपनी सुरक्षा और अपने भविष्य के लिए इन ताकतों से लड़ना होगा।

आफताब आलम ने कहा कि कि यह सरकार किसानों के फसल बीमा योजना के प्रीमीयिम के नाम पर अरबों रुपये बीमा कम्पनी को देती है। जो उद्योगपति की जेबों में जाती है, मगर कभी किसी किसान को फसल की क्षतिपूर्ति नहीं मिलती। जाहिर है कि यह योजना किसानों के शोषण और पूजीपतियों के लाभ के फायदे के लिए बनाई गई है।

उन्होंने कहा कि डीजल, खाद के दाम निरंतर बढाये जा रहे है। इससे किसान कि कमर टूटती है और मुनाफा पूंजीपतियों की जेब में जाता है। केसानों के बच्चों की शिक्षा महंगी हो रही है।  किनों के पझे लिखे बच्चों के लिए बली नौरियों पर रोक लगीई जा रही है। बेराजगारों को पकौड़ा बेचने की सरकार राय दे रही है। ऐसे में इस सरकार को हटाने की जिम्मेदारी आपकी हो जाती है।

बसपा नेता आफताब ने कहा कि धर्म के नाम पर भाजना नफरत पैदा कर रही है। नफरत किसी को रोटी या नौकरी नहीं दे सकती। आप सुखी तब रहेंगे जब आपके पैदा किये अनाज की बेहतर कीमत मिलेगी। मगर वर्तमान सरकर आपके फसलों के दाम के बजाए आपके रसोई गैसे के दाम बढाती है। यह बढ़ा हुआ दाम पूजी पतियों की जेब में जाता है। जनता इन सवालों को लेकर सरकार की घेराबंदी न कर सके इसलिए यह सरकार मंदिर मस्जिद का सवाल उठा कर जनता का दिमाग भटकाती है। उन्होंने चेताया कि यह समय उनके धार्मिक नारों में फंसने का नहीं, उन्हें सबक सिखाने का है। हम सही याद दिलाने आये हैं।

इन सभाओं को सम्बोधित करते हुए हाजी अरशद खुर्शीद पूर्व प्रत्याशी इटवा, ने कहा कि पिछले चुनाव में मेरी हार के बाद  जनता को यहसास हो गया है कि भाजपा शासन में उन पर कैसी बीत रही है। भ्रष्टाचारए सरकारी आतंक पुलिस जुल्म से लोग त्रस्त हैं। इसलिए लोग सभा में फिर वह गलती न दोहराई जाये, इसे बताने के लिए हम सब गांव गांव घूम रहे हैं।

सभा में बसपा जिलाध्यक्ष दिनेश चन्द्र गौतम सहित शमीम अहमद,रामदरश गौतम, अंगद राज, भूल्लर प्रसाद, डॉ राधे श्याम, शेराज अहमद, पेशकार पासवान, ,संकर्षण श्रीवास्तव, हकीउल्लाह, समशेर, रामअचल, मनोज मिश्रा, काराम खान, पुलेन्द्र ग्री, पी. पी.सिंह, तयय्य्ब अली आदि लोग उपस्थित रहे।

 

(249)

Leave a Reply