सड़क से सदन तक लड़ी जायेगी जगदीशपुर के बाढ़ पीड़ितों की लड़ाई-विनय शंकर

August 30, 2017 12:08 pm0 commentsViews: 90

––– विनय शंकर के संघर्ष की घोषणा के बाद डीएम गोरखपुर ने लिया जगदीश्पुर गांव के हालात का  जायजा

अजीत सिंह

गोरखपुर। चिल्लूपार के बसपा विधायक पंडित विनय शंकर तिवारी जी ने आज बैरियाखास, जगदीशपुर, कोलखास, पौहरिया, सूबेदार नगर माझा, सीधेगौर, मैभरा आदि गाँवों में बाढ़ पीड़ितों से संपर्क किया तथा जगदीशपुर में उन्होंने बाढ़ पीड़ितों कहा कि यदि उनके नदी में विलीन घरों की जगह सरकार ने नये घर नहीं दिये तो इसकी लड़ाई सड़क से सदन तक लड़ी जायेगी। उनकी इस धमकी का असर यह हुआ कि जिलाधिकारी गारेखपुर ने देर शाम खुद जगदीशपुर पहुंच कर हालात का जायजा लिया।

विधायक विनय शंकर तिवारी ने आज जगदीशपुर गाँव में अपने अस्तित्व की लड़ाई लड़ रहे लोगों को हर सम्भव सहयोग का वादा किया तथा अपने पास से बाढ़ पीड़ितों को राहत सामग्री भी उपलब्ध कराया। ये गाँव सैलाबी से बर्बाद हो गया है। तमाम घर नदी में विलीन हो गए हैं।

विधायक ने प्रशासन से बात कर नया जगदीशपुर बसाने के लिए तत्काल जमीन एवं प्रधानमन्त्री आवास योजना के अन्तर्गत सभी को आवास दिलाने का वादा किया। जगदीशपुर के लोगों को आबाद करने के लिए विधायक ने सदन से सड़क तक संघर्ष करने वादा भी किया। या रहे कि राप्ती नदी की कटान से गांव के दर्जनों घर नदी में समा गये हैं। कटान जारी है। इलाके में कोहराम मचा है।

डीएम पहुंचे जगदीशपुर गांव
विधायक विनय शंकर तिवारी द्धारा जगदीशपुर पहुंचने और उनके लिए लड़ाई की घाषण करने के बाद उसी दिन यानी मंगलवार को गोरखपुर के डीएम राजीव रौतेला ने बड़हलगंज ब्लाक के ग्राम जगदीशपुर रौतेला गांव का दौरा किया। उन्होंने राप्ती नदी की कटान से गांव की तबाही का मंजर खुद देख और लोक निर्माण के अफसरों का टूटी सड़कों के बनाने का निदेश दिया तथा गांवा वालों को अश्वस्त किया उनकी समस्याओं का समाधान करने के लिए प्रशासन कटिबद्ध है।

 

Leave a Reply