तहसील की समितियां पारदर्शिता से करे निस्तारण व जनहित कार्यो में लाएं तेजी- त्रिभुवन कुमार

January 2, 2019 10:45 am0 commentsViews: 64

मेराज़ मुस्तफा

इटवा, सिद्धार्थनगर। नववर्ष के पहले दिन से ही उप जिलाधिकारी इटवा त्रिभुवन कुमार ने अपने पुराने अंदाज में कार्यों के प्रति बेहद सजग दिखे। उप जिलाधिकारी त्रिभुवन कुमार द्वारा मंगलवार को तहसील स्तरीय विभिन्न दस समितियों के अध्यक्ष व सचिव के अतिरिक्त सम्बंधित समितियों से जुड़े सदस्यों के साथ बैठक की। उप जिलाधिकारी त्रिभुवन कुमार की अध्यक्षता में निम्न समितियों के अध्यक्ष व सचिव के अतिरिक्त सदस्य मौजूद रहे।
एंटी भू माफिया समिति के राजस्व अधिकारी इटवा को निर्देशित किया गया कि सरकारी जमीन पर कब्जा करने वाले बड़े एवं प्रभावशाली अवैध अतिक्रमणकर्ताओं को चिन्हित करें जो कम से कम एक एकड़ से अधिक जमीन पर कब्जा किया हो व निम्न स्तर एवं गरीब आदमियों पर अनावश्यक कार्यवाही न की जाए यदि गरीब आदमी सरकारी भूमि पर नवीन परती या बंजर पर बसा हो तो वह जमीन उसके नाम कर दी जाए।

उप जिलाधिकारी त्रिभुवन कुमार ने संबंधित थानाध्यक्ष को निर्देशित किया कि अवैध अतिक्रमणकारियों के विरुद्ध एंटी भू माफिया एक्ट के अंतर्गत गुंडा एवं गैंगस्टर में कार्रवाई की जाए।

खनन समिति के सदस्यों व सम्बंधित थानों को निर्देशित किया गया कि रात्रि गश्त के समय खनन क्षेत्रों पर विशेष ध्यान रखें और सूचना तत्काल तहसीलदार या उप जिलाधिकारी को दें एवं अवैध खनन होने पर मुकदमा दर्ज किया जाए और जेल भेजकर कार्यवाई की जाए।

आपदा एवं राहत समिति के सचिव एवं सदस्यों को निर्देशित करते हुए उप जिलाधिकारी त्रिभुवन कुमार ने कहा तहसील में प्राप्त होने वाले कंबल को दिव्यांग व विधवाओं के अतिरिक्त गरीब व्यक्तियों में वितरित किया जाए तथा आगामी चार जनवरी व सात जनवरी को जनप्रतिनिधियों के द्वारा शिविर लगाकर कम्बल वितरण कराया जाए।

स्वास्थ्य और पोषण समिति के अध्यक्ष प्रभारी चिकित्सा अधिकारी को निर्देशित किया गया कि मदरसों में शत-प्रतिशत रूबेला व खसरा टीकाकरण सुनिश्चित किया जाए व परिषदीय विद्यालयों में साठ फीसदी से अधिक बच्चे उपस्थित नहीं रहते हैं जिस वजह से शत – प्रतिशत टीकाकरण नही हो पाया है इसलिए इसपर ध्यान देते हुए अन्य बच्चों का टीकाकरण करवाकर उनको रूबेला व खसरा से सुरक्षित किया जाए व तहसीलदार इटवा राजेश अग्रवाल के साथ संबंधित खण्ड विकास अधिकारी टीकाकरण सूची लेकर सत्यापन कर टीकाकरण कराना सुनिश्चित करें।

एमडीएम समिति के सचिव खंड शिक्षा अधिकारी को निर्देशित किया गया कि बच्चों की उपस्थिति कम होने पर एमडीएम कम बनता है इसलिए बच्चों की उपस्थिति शत -प्रतिशत सुनिश्चित की जाए एवं कोई बच्चा यदि प्राइवेट या मदरसा में अध्ययन करता है व नामांकन परिषदीय विद्यालयों में है तो परिषदीय विद्यालय से उसका नाम काटा जाए।

बाल विकास एवं संरक्षण समिति के सचिव बाल विकास परियोजना अधिकारी को निर्देशित करते हुए उप जिलाधिकारी त्रिभुवन कुमार ने कहा कि आंगनवाड़ी केन्द्र यदि खुले नहीं पाए जाते हैं तो आंगनवाड़ी कार्यकर्ती की सेवाएं तत्काल समाप्त करने के साथ यह भी सुनिश्चित किया जाए कि गांव में कोई भी बच्चा कुपोषित न रहे व पोषाहार वितरण में किसी भी तरह की लापरवाही कतई क्षम्य नही होगी।

पेयजल और एवं स्वच्छता समिति के सचिव व सदस्यों द्वारा निर्णय लिया गया कि सभी सफाईकर्मी सार्वजनिक स्थानों की सफाई करें गांव में सफाई कर्मियों की उपस्थिति सुनिश्चित की जाए और खराब इंडिया मार्का हैंडपंपों के मरम्मत कराए जाएं।

कृषि एवं सिंचाई समिति के सचिव को उप जिलाधिकारी त्रिभुवन कुमार ने निर्देश देते हुए कहा कि शासन द्वारा कृषकों को निःशुल्क प्राप्त होने वाले उपकरणों के संबंध जानकारी देते हुए जागरूक कर कृषकों को बताया जाए कि संबंधित ब्लॉक में जाकर आधार कार्ड और प्रारूप पत्र के माध्यम से उपरोक्त योजनाओं से लाभ प्राप्त करें।

खाद सुरक्षा एवं पोषण समिति के जिम्मेदार लोगों को  निर्देश दिया कि शासन द्वारा निर्धारित किया गया है कि ब्लॉक स्तर पर 79.5% लोगों को राशन कार्ड से जोड़ा जाए परंतु अभी तक मात्र 69% लोगों को ही राशन कार्ड से जोड़ा गया है अतः शेष बचे 10% लोगों का राशन कार्ड बनाया जाए और गरीबों को चिन्हित कर राशन उपलब्ध कराया जाए।

(51)

Leave a Reply