मिश्रौलिया और कठेला क्षेत्र में धधक रही हैं कच्ची शराब की भट्ठियां

November 11, 2015 3:35 pm0 commentsViews: 218

हमीद खान

is1सिद्धार्थनगर के मिश्रौलिया क्षेत्र में आबकारी विभाग व स्थानीय पुलिस के उदासीनता के चलते मिश्रौलिया व कठेला क्षेत्र में इन दिनों कच्ची शराब का धन्धा जोरों पर है। इन नशाखोरों का तिलिस्म तोड़ पाने में आबकारी विभाग व स्थानीय पुलिस असफल साबित हो रही है।

कठेला क्षेत्र के भैसाही ,ककरा, बड़ुइया, कठेला गर्बी आदि तथा मिश्रौलिया क्षेत्र के कनकटी , जोकइला ,मधवापुर आदि गावों में यह कच्ची शराब का धन्धा इन दिनो पूरी तरह चरम पर है। इस कार्य में हल्का सिपाहियों की भी भूमिका संदेह के घेरे में है। ऐसा भी नहीं है कि इस गांव में यह नया कार्य हो रहा है, बल्कि इन गांवों की पहचान कच्ची शराब के धंधे से ही है, फिर भी जानकर अन्जान क्यो बनी क्षेत्रीय पुलिस ?

बताया जाता है कि यह कच्ची शराब चावल व महुआ, अर्दक आदि सड़ा कर नशे के लिए बनाई जाती है। जिसमे अधिक नशे हेतु नशीली गोलिया भी मिलाई जाती है। शाम होते ही शराब की भट्टिया धधकने लगती है।
इस संबंध में पुलिस उपाधीक्षक इटवा दीपनरायन त्रिपाठी से बात करने की कोशिश की गयी ता फोन उन के गनर ने उठाया जिस वजह से कोई बात नही हो पायी।

(7)

Leave a Reply