खुनियांव में शिक्षक की पिटाई का मामला कहीं शिक्षक राजनीति से जुड़ा तो नहीं?

October 11, 2017 3:42 pm0 commentsViews: 164

एम. आरिफ

सिद्धार्थनगर। ब्लाक संसाधन केन्द्र खुनियांव में अध्यापकों में मारपीट की घटना कासच कुछऔरबाया जा रहा है। जिले के शिक्षा जगत में यह मामला शिक्षक संघ कीराजनीति पर पकड़ बनाने की गरज से बताया जा रहा है।   बताया जाता है कि आने वालेसमय मेंइस प्रकारकी और भी घटनाएं देखने को मिलें।

आरोप है कि कुछदिन पूर्व ब्लाक संसाधन केन्द्र खुनियांव अन्तर्गत भरवलिया स्थित प्राथमिक विद्यालय में तैनात प्रधानाध्यापक अभिषेक सोनी को  कमरे में बंद कर कथित पिटाई की बात सामने आयी थी।इस मुद्दे को एक शिक्षक नेता भी हवा दे रहा था।

क्षेत्र में चर्चा की विषय बनने पर जब इस घटना की जांच की गयी तो इसे प्रायोजित खबर बताई गई अनेक लोगों का कहना था कि उस वक्त किसी शिक्षक की पिटाई नहीं हुई। सम्बंध में कथित आरोपित अध्यापक अनिल त्रिपाठी ने मोबाइल नम्बर 9984540124 पर सम्पर्क करने पर  बताया कि उनका किसी से झगड़ा नहीं हुआ। ऐसा आरोप लगा कर मुझे बदनाम करने के लिए खबरें प्रकाशित की जा रही है। जिससे मेरी छवि खराब हो।

जब कि कथित पीड़ित अध्यापक अभिषेक सोनी के मोबाइल नम्बर 8948252581 पर सम्पर्क किया गया तो उनका मोबाइल नम्बर स्वीच आफ मिला। बीआरसी खुनियांव में सम्पर्क करने पर वहां मौजूद अध्यापकों ने बताया कि आज मारपीट की कोई घटना नहीं हुई है।

पता चला है कि शिक्षक अनिल त्रिपाठी भी इस बार शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष का चुनाव लड़ने वाले थे। इससे संघ के कुछ मठाधीश उनसे कुपित थे। इसीकेचलते उनके खिलाफ एक मुकदमा भी दर्ज कराया गया था।आरोप है  कि उसी गिरोह की दुबारा की गई साजिश है। जानकार बता रहे हैं कि इस प्रकार का घृणित राजीनीतिक खेल आगे और भी होने की आशंका है।

 

 

(0)

Leave a Reply