नफरत को खत्म करने के लिए गंभीर प्रयास होने चाहिए- माता प्रसाद पांडेय

June 21, 2018 4:37 pm0 commentsViews: 307

नजीर मलिक

सिद्धार्थनगर। यूपी के पूर्व विधानसभा अध्यक्ष माता प्रसाद पांडेय ने कहा है कि समाज में सुनियोजित तरीके से नफरत को बढावा दिया जा रहा है। राजनीति लाभ के लिए नफरत के बीज बोने वाली ताकतों से लड़ने का प्रयास करना होगा। इसमें राजनीतिक, समाज सेवी और प्रबंद्धजन को योगदान देना होगा।

माता प्रसाद पांडेय डुमरियागंज स्थित खैर टेक्निकल सेंटर में स्वतत्रता सेनानी मौलाना मोहम्मद अली जौहर के जन्तदिन पर आयोजित गोष्ठी में बोल रहे थे। कार्यक्रम का आयोजन समाजसेवी काजी इमरान लतीफ ने किया था। इस अवसर पर माता प्रसाद पांडेय ने मौलाना जौहर से जुडे कई प्रसंग भी सुनाये।

माता प्रसाद पांडे ने गोष्ठी में  कहा कि देश की आजादी में मौलाना जौहर साहब का जो योगदान है उसे कभी भुलाया नहीं जा सकता। उन्होंने कहा कि जो देश में हालात हैं, उसमें इंसानियत को बढ़ावा देने के लिए नफरत को खत्म करने का प्रयास किया जाना चाहिए। युवाओं को आगे आकर इस में अहम भूमिका निभानी होगी। ऐसे कार्यक्रम आयोजनों की उन्होंने पूरी आयोजन कमेटी की सराहना की।

इस अवसर पर मणींद्र मशाल ने कहा कि आपसी सौहार्द बिगाड़ने के लिए देश और समाज में तमाम तरह के उन्माद फैलाए जा रहे हैं। हमें आपसी भाईचारा कायम रखने के लिए हिंदू मुस्लिम को एक मंच पर आना होगा। कार्यक्रम के संबोधन में दलित चिंतक मनोज सिद्धार्थ, काजी सोहेल अहमद, काजी बख्तियार उस्मानी, काजी नसीम, अफसर रिजवी, नीलम यादव, काजी फरीद अहमद, काजी फरीद अब्बासी, काजी किताबुउल्ला, जावेद हयात, सगीर खाकसार  आदि ने संबोधित किया।

इस अवसर पर ताकिब रिज्वी,घिसियावन यादव, सोहेल अहमद, राहिब रिजवी, श्रीकांत वकील, इरफान मिर्जा, राजेश पांडे शाह आलम, साजिद मलिक, पप्पू, इरफ़ान, अमीन, आदि समाज के बुद्धिजीवी वर्ग मौजूद रहे। अंत में काजी इमरान लतीफ ने सभी का आभार व्यक्त किया।

 

 

(260)

Leave a Reply