exclusive- नोटबंदी के बावजूद नेपाल के कसीनो में धड़ल्ले से चल रहे पुराने भारतीय नोट

March 18, 2018 3:01 pm0 commentsViews: 661

 

नजीर मलिक

नेपाल के काठमांडू स्थित एक कसीनो

काठमांडू । भारत में नोटबंदी हुए  तकरीबन सवा साल हो रहे लेकिन वहां  अभी तक भारतीय  करंसी को वापस लौटाने की प्रक्रिया शुरू नहीं की गई है। भारत और नेपाल के सबसे बड़े बैंकों, नेपाल राष्ट्र बैंक और रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने अभी तक पुरानी भारतीय करंसी को बदलने के तरीके पर कोई फैसला नहीं किया है। इसका फायदा नेपाल के कसीनों, डांस बार और कुछ कालाबाजारी जम कर उठा रहे हैं।

ऐसे चलन में लाये जाते हैं पुराने नोट

बताया जाता है कि  नेपाल में पुराने भारतीय नोटों को बदलने का धंधा जोरों पर चल रहा है। वहां के कसीनो  (जुआघरों ) में अभी हजार और पांच सौ के पुराने नोटों का इस्तेमाल किया जा रहा है। भारतीय पर्यटक नेपाल के कसीनो में इन नोटों के साथ जाते हैं। वहां 500 का पुराना नोट देने पर 400 नेपाली नोट (भारतीय मुद्रा में 240 रुपये) मिल जाते हैं। कसीनो और डांस बार में पुरानी भारतीय  करंसी को आसानी से बदला जा सकता है। कठमांडू में ही दो हजार से ज्यादा वैध और अवैध डांस  बार्स चलते हैं। वहां कसीनों में आप एक लाख का टोकन खरीदिये। फिर 10 हजार का जुआ खेलिए और लौटते समय बचे टोकनों को वापस कर नेपाली मुद्रा के साथ बाहर आ जाइये।

काले धंधबाज भी खरीद रहे नोट

इसके अलावा नेपाल में काला धंधा करने वाले कई वेहरे भी नोट के धंधे में लगे हैं। इनकी जडें महेन्द्र लगर, काठमांडो, पोखरा पालपा आदि शहरों में फैली हुई हैं। वे इन्हें 40 प्रतिशत के दामों पर खरीद रहे हैं। चूंकि भारतीयों की नजर में यह नोट जीरो के बराबर है, इसलिए वे इन्हें आणे दामो पर खुशी खुशी बेच रहे हैं। सूत्र बताते हैं कि ये धंधेबाज इसे वहां नेपाली नोटों में बखूबी चेंज कर रहे हैं।
दूसरी तरफ, नेपाल  के जुआघरों में में इन  नोटों को तभी बदला जा सकता है जब इनके बदले कोई कसीनो में बड़ी रकम लगाए। पुराने भारतीय नोटों से कसीनो के टोकन खरीदे जा सकते हैं। इन टोकन से  पर्यटक कसीनो में जुआ खेलकर नेपाली करंसी पा सकता है। यह प्रक्रिया अपने-आप में वैध है।
बिहार के एक नेता ने खेला पुराने नोटों से जुआ

टाइम्स  न्यूज नेटवर्क के एक पत्रकार को ऐसे ही एक कसीनो का दौरा करने पर बिहार के एक नेता अपने साथियों के साथ दिखे। वह कसीनो में खेलते हुए कुछ ही घंटों में लगभग 3 लाख रुपये गंवा चुके थे। उन्होंने अपने ड्राइवर से भारतीय नोट मंगाए और कसीनो को दे दिए।
इस पूरी जानकारी से सवाल यह उठता है कि ये कसीनो पुरानी भारतीय करंसी का आखिर क्या करेंगे? एक कसीनो के मालिक ने बताया कि भारत  सरकार ने नेपाल से भारतीय करंसी वापस नहीं लियाहै। जब भारत यह नोट मांगेगा तो कसीनो के पास जमा रकम भी नेपाल भारत को वापस कर देगा। इससे नेपाल के प्राइवेट बैंक खूब पैसा कमाएंगे।

नेपालियों के लिए बंद है कसीनों में प्रवेश

बता दें कि नेपाल के किसी भी कसीनों में वहां के कानून के प्रवेश निषेघ है। सरकार के मुताबिक वहां की गरीबी के कारण यह नियम बनाया गया है। वहां केवल विदेशी नागरिक ही प्रवेश ले सकते हैं। काठमांडों में प्रति दिन एशियाई देशों के हजारों पर्यटक केवल जुआ  खेलने के लिए हवाई जहाज से सफर करके आते हैं। उनमें अस्सी प्रतिशत केवल भारतीय होते हैं। कसीनों के सू़त्रों के मुताबिक वहां प्रति दिन लगभग 50 करोड़ की रकम जुए में इधर से उधर होती है। इधर पुराने नोटों को स्वीकार किये जाने से यह धंधा और बड़ गया है।

 

 

 

(587)

Leave a Reply