सपा की बैठक में विधायक पसवान पर पार्टी विरोध के नाम पर जोरदार हमला, आलाकमान तय करेगा जिला पंचायत अध्यक्ष उम्मीदवार

November 7, 2015 9:00 pm0 commentsViews: 96

विधायक पासवान समर्थक नहीं दे पाये एक भी आरोप का जवाब, केवल औपचारिक खंडन ही करते रहे। आरोपों पर जम कर बजी तालियां

नजीर मलिक

समाजवादी पार्टी की बैठक में जिलाध्यक्ष अजय चौधरी, पूर्व विधायक लाल जी यादव, चिनकू यादव व अन्य कार्यकर्तागण

समाजवादी पार्टी की बैठक में जिलाध्यक्ष अजय चौधरी, पूर्व विधायक लाल जी यादव, चिनकू यादव व अन्य कार्यकर्तागण

शनिवार को हुई समाजवादी पार्टी की बैठक में जिला पंचायत अध्यक्ष पद के प्रत्याशी पर लोग एकमत नहीं हो सके। लिहाजा उम्मीदवारी का फैसला आलाकमान पर छोड़ दिया गया। बैठक में सदर विधायक विजय पासवान पर नेताओं ने जोरदार हमला किया, जिस पर उनके समथर्कों की बोलती बंद रही।

बैठक में सबसे तगड़ा हमला महिला आयोग की सदस्य जुबैदा चौधरी और इंद्रासना त्रिपाठी ने बोला। जुबैदा चौधरी ने कहा कि विधायक विजय पासवान ने उन्हें और पूर्व विधायक व पूव जिला पंचायत अध्यक्ष सईद भ्रमर को हराने के लिए अपना उम्मीदवार उतारा।
इसी तरह राज्य महिला आयोग की दूसरी मेंबर इन्द्रासना ़ित्रपाठी ने आरोप लगाया कि विधायक विजय पासवान ने उनके बेअे को हराने के लिए जिला पंचायत क्षेत्र से अपना उम्मीदवार उतारा। इन आरोपों पर खूब तालियां बजीं।

इसके जवाब में कपिलवस्तु विधानसभा क्षेत्र के अध्यक्ष जोखन चौधरी और विधायक प्रतिनिधि चन्द्रजीत यादव ने विधायक का बचाव किया। लेकिन उनकी दलीलों को किसी ने ध्यान नहीं दिया।

बैठक में जिला पंचायत उम्मीदवार के मुदृदे पर चर्चा भी हुई। लोगों ने इशारों और संकेतों में अपनी अपनी बात रखी। जिलाध्यक्ष अजय चौधरी सबकी बातें सुनते रहे, मगर उन्होंने अपनी तरफ से किसी तरह का इशारा नहीं किया।

समाजवादी पार्टी के लोगों का अनुमान था कि जनपद के बड़े नेता और विधानसभा अध्यक्ष के आने पर शायद कुछ संकेत मिले। लेकिन माता प्रसाद पांडेय जी मीटिंग में नहीं आये। इससे भी बहस को बल न मिल सका।

अन्त में लोगों ने यही कहा कि इस मामले का फैसला आलाकमान ही करे। वह जिसे उम्मीदवार बनायेगा, वर्कर उसके लिए जी जान से लड़ेंगे। याद रहे कि अध्यक्ष पद के दावेदार गरीबदास अपने नेता चिनकू यादव के साथ आये थे तो दूसरी दावेदार शांति देवी बैठक में खुद उपस्थित थीं।

सदर विधायक की पत्नी मंजू पासवान भी बैठक में नहीं थी। लेकिन उनके समर्थक भी वहां स्थिति पर नजर रखे हुए थे। बैठक की समाप्ति पर फैसला नही लिए जाने संबंधी सवाल पर एक जिम्मेदार नेता ने कहा कि यहां फैसला क्या करना। विधानसभा अध्यक्ष जी का फैसला ही लागू होगा। लिहाजा दावेदारासें को वहीं अपना पक्ष रखना चाहिए।

बताते चलें कि जिले में समाजवादी पार्टी की ओर से जिला पंचायत अध्यक्ष पद के तीन उम्मीदवार है। सदर विधायक विजय पासवान जहां अपनी पत्नी मंजू पासवान को अध्यक्ष बनाने के लिए लाबिंग में लगे हैं वहीं सपा नेता राम कुमार चिनकू याद अपने करीबी गरीबदास के लिए ताल ठोंक रहे हैं।

सदर विधायक की भतीजी शांति वासवान इसमें तीसरा कोण बन कर उभरी है। उन्हें भी सपा के एक मजबूत वर्ग का समर्थन है। इनमें चयन को लेकर भारी कशमकश चल रही है।

बैठक में पूर्व विधायक लालजी यादव सहित सपा नेता रामकुमार उर्फ चिनकू यादव, जोखन चौधरी, चन्द्रजीत यादव, खुर्षीद अहमद, कलाम सिदृदीकी आदि की उपस्थिति रही।

(1)

Leave a Reply