अबोध भाई-बहन की रहस्यमय हालात में मौत, गांव में सदमे के साथ छायी हैरानी

July 8, 2018 2:38 pm0 commentsViews: 748

अमित श्रीवास्तव

चारपाई पर नेहा और राज की ढकी लाश और रोते बिलखते परिजन

मिश्रौलिया, सिद्धार्थनगर। इटवा तहसील के सोनौली नानकार गाँव में एक परिवार के लिए रविवार की सुबह मातम बनकर आयी।गांव निवासी ओम प्रकाश निषाद के दो अबोध बच्चों की भोर में अचानक पहले आवाज बंद हुई और थोड़ी देर बाद उनकी मौत हो गई। मृतक दस साल की नेहा और आठ साल के राज को कोई बीमारी नहीं थी। इस रहस्यमय हादसे से ओप्रकाश का परिवार नही पूरा गांव सदमें में डूबा हुआ है।

बताते चलें कि शनिवार की रात ओम प्रकाश अपने बच्चो के साथ घर की छत पर सोये थे। रविवार की भोर में  करीब ४ बजे  उनके दो बच्चो के मुँह से अचानक आवाज निकलनी बंद हो गयी। घर वाले आनन फानन में दोनों बच्चो को लेकर जिला अस्पताल पहुँचे।जहाँ दोनों बच्चों की मौत हो गयी।मृतक बच्चों के पिता ने बताया कि उनके 6 लड़कियां और दो लड़के है। वे किसी भी रोग से ग्रसित नहीं थे। उनकी मौत से वे अचम्भित हैं और इस रहस्य का समझ नहीं पा रहे हैं। गांव वाले भी इस वाकये से हैरान हैं।

घर के दो बच्चों की मौत से पूरे घर में मातम छाया है।अचानक हुई इन मौत के कारणों का पता नही चल पा रहा है। परिवार वाले किसी अज्ञात बीमारी का होना मान रहे हैं। मृतक नेहा और राज सहित कुल आठ बच्चे है।ओम प्रकाश पेशे से मजदूर है। इस घटना से पूरे गांव में मातम छाया है।मृतक दोनों बच्चे गांव के प्राथमिक विद्यालय में पढ़ते थे। दोनों कक्षा एक के छात्र बताये जा रहे है।वही इस बारे में मिश्रौलिया

(679)

Leave a Reply