कपिलवस्तुः रामधनी ने परिवार सहित किया इस्लाम कबूल, प्रशासन से की सुरक्षा की मांग

September 16, 2017 12:59 pm2 commentsViews: 1728

नजीर मलिक 

सिद्धार्थनगर।  कपिलवतु कोतवाली के अलीगढ़वा के रहने वाले एक परिवार ने इस्लाम धर्म कबूल कर लिया है। दो माह पहले हुए इस धर्म परिवर्तन का मामला तब चर्चा मे आया जब यह जानकारी अन्य लोगों को हुई और उसे परेशान किया जाने लगा। और रामधनी उर्फ रहमान नामक व्यक्ति ने  मानवाधिकार समेंत प्रशासन के कई अफसरों को पत्र लिख कर एक संगठन से अपने को असुरक्षित बता कर सुरक्षा की मांग की। रामधनी मजबूरी मे उसे अपना रोजगार बंद कर पडोस के एक मुस्लिम बहुल गांव मे शरण ले रखा है।

खबर है कि कपिलवस्तु थाने के अलीगढवा निवासी अवधराम के पाँच बेटो मे से सबसे बडा रामधनी व उसकी पत्नी गुडिया ने लगभग दो माह पहले इस्लाम धर्म कबूल कर लिया। धर्म परिवर्तन करने से पूर्व रामधनी अनुसुचित जाति के धोबी समाज से ताल्लुक रखता था। रामधनी सिलाई का काम नेपाल बार्डर से लगे धनगढवा मे करता था। वही इस्लाम धर्म की तकरीरो को सुनते सुनते वह इस्लाम धर्म से प्रभावित हो गया और उसने अपनी पत्नी गुडिया वा नौ वर्षीय बेटी के साथ धर्म परिवर्तन कर लिया।

बताते हैं कि इसके बाद वह रामधनी से अब्दुल रहमान बन गया, जबकि पत्नी गुडिया से आयशा हो गई। काफी दिन बाद हाल में जब लोगो को इस बात का पता चला तो मकान मालिक ने सबसे पहले अपनी दुकान खाली करा ली। साथ ही लोग उस पर फब्तियां कसने लगे। जिससे परेशान होकर उसने अपनी और अपने परिवार की सुरक्षा को लेकर मानवाधिकार आयोग वा प्रशासन से जुडे बडे अधिकारियो को पत्र प्रेषित कर सुरक्षा की गुहार लगाई है।

इस समय असुरक्षित महसूस कर उसने अपना आशियाना पड़ोस के मुस्लिम बाहुल्य गाँव पिपरहवा में बना लिया है। जहां वह अपने को सुरक्षित बता रहा है। हालाकि धर्म परिवर्तन के पीछे क्या कारण है, यह जांच का विषय है। रामधनी उर्फ अब्दुल रहमान के पिता उसे अब भी हिन्दु धर्म मे वापसी की गुहार लगा रहा है। वही पुलिस इस मामले पूरी तरह से सर्तक रहने का दावा कर रही है। जिले के  एएसपी अरविंद मिश्रा का कहना है कि वह लोग हालात पर नजर रखे हुए हैं। फिलहाल कोई समस्या नजर नही आ रही है।

 

 

 

 

 

 

 

 

(20)

Leave a Reply