सावधान गरीब वर्गǃ भाजपा जीती तो आयेगा पूंजीपतियों का राज- आफताब आलम

February 9, 2019 5:29 pm0 commentsViews: 186

अजीत सिंह

सिद्धार्थनगर। बसपा नेता और डुमरियागंज के लोकसभा सीट प्रभारी आफताब आलम में भाजपा को जनविरोधी और  चालीस चोरों की सरकार बताते हुए कहा है कि देश के किसान, गरीब,  बेरोजगारों द्वारा इस सरकार से हिसाब लेने का मौका सा गया है। आने वाले चुनाव में जनता को भाजपा सरकार को केन्द्र से खदेड़ने के लिए अभी से कमर कसना होगा। वरना देश में पूंजीपतियों का अधोषित राज आ जायेगा।

शनिवार को उसका नगर पंचायत क्षेत्र  के घुघुलिया, मोगलहा, रेहरा बाजार, रानीगंज, बरदहा, हसरामपुर, करमा में जरूरतमंदों को कंबल वितरण के बाद उपस्थित जनसमुदाय को संबोधित कर रहे थे। आफताब आलम ने यहां के गरीब और जरूरतमंदों के बीच लगभग ढाई हजार कम्बल वितरित किया। उन्होंने कहा कि गरीब की सवा ही सबसे बड़ी राजनीति है। यही उनके राजनीति का मूलमंत्र है

इस अववसर पर बसपा प्रभारी आफताब आलम ने कहा कि भाजपा जानता का शोषण करने वाली पार्टी है। इसके नेता अलीबाबा के काल के चालीस चोरों के संरक्षक सरीखे है, जो जनता के पैसे को चालीस चोर रूपी पूंजीपतियों के हाथों लूटा रहे है। आज देश में अडानी, अंबानी, नीरव मोदी जैसे लोग इस सरकार के संरक्षण में फलफूल रहे हैं और गरीब किसान साधारण जीवन के लिए भी तरस रहा है।

आफताब आलम ने जानता को याद दिलाया कि मोदी जी ने वादा करके भी प्रतिवर्ष 2 करोड़ की दर से 10 करोड़ युवाओं को नौकरी नहीं दिया। किसानों की फसल का दाम दोगुना नहीं किया। इसके बजाय शिक्षा, स्वास्थ्य के बजट में कटौती किया। अभी राफेल घोटाले में नए दस्तावेज़ सामने आए है, जिनसे साबित होता है कि उन्होने इस घोटाले के जरिए पच्चीस हजार करोड़ अंबानी को फायदा दे दिया  उन्होंने कहा कि इन सवालों को याद रखिए और जल्द होने वाले चुनाव में इसके आधार पर इस सरकार को हटा दीजिए।

आफताब आलम ने कहा कि यह सरकार किसान, जवान विरोधी और पूंजी पतियों की समर्थक है। जानता को इससे सावधान रहना होगा। कार्यक्रम में उनके साथ बसपा नेता पट्टू राम आजाद, धनश्याम गौतम, राजा राम लोधी, अजुर्न सिंह, राम देव पासवान, चन्द्रभान, अमरेश पाल यादव, नन्हें पाण्डेय, राजन सिंह, रामगति वरुण, शमीम अहमद, राकेश प्रजापति, प्रेम नारायण सिंह लवकुश सहानी ,परवेज अहमद, रामशंकर मौर्य, फिरोज सिददीकी आदि शामिल रहे।

 

 

 

(177)

Leave a Reply