डीएम स्टेनों के भ्रष्टाचार के खिलाफ लामबंद हुए सभासद, जांच की मांग

January 30, 2018 4:31 pm0 commentsViews: 410

अजीत सिंह

सिद्धार्थनगर। नगर पालिका परिषद सिद्धार्थनगर के दर्जनों सभासदों ने सोमवार को जिलाधिकारी से मिलकर उनके ही स्टेनों के खिलाफ शिकायत कर्ज कराया है। सभासदों ने डीएम से कहा कि उनके स्टेनों बलदाऊ शर्मा पिछले 20  सालों से  यहां कार्यरत हैं और इनके द्वारा कई जिलों में अवैध रूप से कमाये गये पैसों से करोड़ो रूपयों की सम्पत्ति बनाई है। सभासदों ने प्रकरण की जांच की मांग की है।

सभासद फतेबहादुर सिंह की अगुवाई में दर्जनों सभासदों ने  जिलाधिकारी कुणाल सिल्कू से मुलाकात की और उन्हें ज्ञापन सौंपा। दिये गये पांच सूत्रीय ज्ञापन  में कहा गया है कि बलदाउ शर्मा स्टेनों एसडीएम इटवा है, मगर वे डीएम कार्यालय साथ लगभग बीस वर्षों से सम्बद्ध हैं। उन्होंने  पद का दुरूपयोग कर सिद्धार्थनगर सहित गोरखपुर और  संतकबीर नगर में जमीन व मकान के रूप में करोड़ों रूपये की अवैध सम्पत्ति बना लिया है।

ज्ञापन में सभासदों ने आरोप लगाया है कि स्टेनों की पत्नि द्वारा 2006 में फर्जी डिग्री लेकर वर्ष 2008 नौकरी प्राप्त की गयी। सुप्रीम कोर्ट द्वारा उक्त डिग्री को 2013 में निरस्त कर दिया गया, लेकिन डीएम के स्टेनों  की पत्नि होने के कारण अभी भी वे नौकरी कर रही हैं। उनकी मेरिट कम थी तो फर्जी विकलांग प्रमाण पत्र बनवाकर बिकलांग कोटे से नियुक्ति कराई गई।

ज्ञापन के माध्यम से स्अेनो को हटाने व पूरे मामले की जांच की मांग की गई है। इस मौके पर इन्दिरानगर के सभासद फतेबहादुर सिंह के अलावा धनन्जय सहाय, सनवर, विजय कुमार, सूरज कुमार, चन्द्रावती देवी, मो. जावेद, शिवकुमार, अनीता यादव, सुमित्रा देवी, पार्वती देवी, रेशमा जायसवाल मौजूद रहे। डीएम कुणाल सिल्कू ने मामले की जांच कराकर कार्रवाई करने का अश्वाशन दिया।

(360)

Leave a Reply