पांच साल की मासूम शगुफ्ता को बिछड़े मां बाप से मिलाया- Thank Yoy Sir

May 11, 2018 2:58 pm0 commentsViews: 213

 

अजीत सिंह

बलरामपुर (यूपी)। ट्रेन में छूट गयी मासूम बच्ची को जीआरपी पुलिस व स्थानीय पुलिस व पत्रकार ने त्वरित संज्ञान लेते हुए तुलसीपुर स्टेशन पर उतारकर परिवार से मिलाने का सराहनीय कार्य किया। अगर सरकारी कारकुन इसी प्रकार अपनी जिम्मेदारी का परिचय दें तो देश की दिशा बदल जायेगी। फिलहाल टीम को बधाइयों का सिलसिला जारी है।

खबर है कि 11 मई की रात में 5 वर्षीय मासूम बच्ची शगुफ्ता का परिवार लखनऊ जाने के लिए ग्राम मध्यनगर से पचपेड़वा स्टेशन पर पहुंचा,  जहाँ से परिवार को गोमतीनगर एक्सप्रेस से लखनऊ जाना था।गोमतीनगर एक्सप्रेस ट्रेन पचपेड़वा स्टेशन पर रात एक बजे पहुंची जिसमें शगुफ्ता के परिवार ने सबसे पहले शगुफ्ता को ट्रेन में चढ़ा दिया और बाद में लगेज बैग चढ़ाने लगे।  इतने में ही ट्रेन चल दी और मासूम शगुफ्ता के पिता हस्सान रज़ा व माँ नाजरीन तथा छोटी बेटी शारबा स्टेशन पर ही छूट गए।

ट्रेन छूट जाने से माँ बाप स्टेशन पर ही अपनी बच्ची को ट्रेन में अकेला जाता हुआ देखकर परेशान हो गए बहरहाल शुगुफ्ता के  पिता हस्सान रज़ा ने पचपेड़वा स्टेशन मास्टर को घटना से अवगत कराया तो वहीं तुलसीपुर थाने पर भी सूचना दी की मेरी मासूम बेटी गोमतीनगर एक्सप्रेस में छूट गयी है जो S 1 बोगी में है।

यह  सुचना पाते ही तुलसीपुर थाने के क़स्बा इंचार्ज दल बल के साथ तुलसीपुर स्टेशन पर पहुंचे। वहां  स्टेशन मास्टर और जीआरपी पुलिस भी मासूम बच्ची को ढूंढने के लिए सतर्क मिले रात लगभग 1.30 बजे तुलसीपुर स्टेशन पर जब गोमतीनगर एक्सप्रेस पहुंची तो मासूम शगुफ्ता मिल गयी, जिसको तुलसीपुर स्टेशन पर उतार लिया गया। बच्ची के साथ ही 6 लगेज बैग भी सकुशल उतार लिया गया और परिवार जो कि पचपेड़वा स्टेशन पर ही थे को सुचना दी गयी की बच्ची हिफाज़त से तुलसीपुर स्टेशन पर उतार ली गयी है।

बच्ची का परिवार तुलसीपुर स्टेशन पर आये और बच्ची को पाकर बहुत खुश हुए तथा परिवार ने स्थानीय पुलिस व स्टेशन मास्टर व जीआरपी को हार्दिक धन्यवाद दिया । मासूम  शगुफ्ता को परवार से मिलाने में स्थानीय थाना तुलसीपुर पुलिस क़स्बा इंचार्ज राघवेंद्र प्रताप सिंह कांस्टेबल अंचल वर्मा कांस्टेबल संजय यादव जीआरपी पुलिस टीम कां शाहनवाज़ खान कां अमजद खान कां सुभाष यादव स्टेशन मास्टर घनश्याम बाबू स्थानीय निवासी मुशब्बर अली अन्नू पत्रकार साबिर अली आदि का सराहनीय कार्य व योगदान रहा।

 

(184)

Leave a Reply