विधायक अमर सिंह सरकार पर बरसे, कहा- सुधर जाओ वरना दलित पिछड़े सबक सिखा देंगे

July 13, 2018 4:12 pm0 commentsViews: 490

 

नजीर मलिक

सिद्धार्थनगर। गुरुवार को जिले में आये यूपी के नगर विकास मंत्री के कार्यक्रम के अवसर पर भाजपा के साझीदार अपना दल के विधायक चौधरी अमर सिंह ने जम कर भड़ास निकाली। उन्होंने सरकार पर तीखे हमले किये और यहां तक कहा कि अगर सब कुछ यों ही रहा तो 2019 के चुनाव में दलित पिछड़े एकजुट होकर सरकार को सबक सिखा देंगे। 

अरअसल भाजपा सरकार द्वारा केन्द्र व उत्तर प्रदेश में खामोशी के साथ खत्म होते आरक्षण, ट्रांसफर-पोस्टिंग से लेकर अन्य कई मुद्दों पर सत्ता पक्ष के दलित पिछड़े जनप्रतिनिधियों को अपने समवर्गीय वर्करों के गुस्से का सामना करना पड़ रहा है। विधायक अमर सिंह का गुस्सा इसी का नतीजा बताया जा रहा है।

विधायक अमर सिंह ने उठाए सरकार पर सवाल– 

अब पार्टी के तेजतर्रार माने जाने वाले व सिद्धार्थनगर जिले की शोहतरगढ़ विधानसभा से पिछड़ो व दलितों की आवाज उठाने वाले विधायक चौधरी अमर सिंह ने अपनी पार्टी के नेतृ्त्व पर तो सवाल नहीं उठाए लेकिन योगी आदित्यनाथ सरकार पर सवाल हीं नहीं जबरदस्त हमला बोला है।

विधायक अमर सिह ने कहा कि शायद मेरी आवाज इसलिए नहीं सुनी जाति की मैं सिद्धार्थनगर से पिछड़ी जाति का एक मात्र जनप्रतिनिधि हूं, इतना ही नहीं उन्होंने सरकार पर पिछड़ों की उपेक्षा का आरोप भी लगाया।

दरअसल सिद्धार्थनगर में आज (गुरुवार) को नगर विकास मंत्री सुरेश खन्ना का कार्यक्रम था, लेकिन सरकार में सहयोगी होने के बाद भी कार्यक्रम के बारे में ना तो विधायक जी को कोई सूचना दी गई थी ना ही विज्ञापन से लेकर बैनर में कहीं उनका नाम दिया गया था। उपेक्षा से आहत विधायक चौधरी अमर सिंह ने शांत बैठने के बजाए विरोध का रास्ता चुना।

भ्रष्टाचार पर भी उठाए सवाल– 

अपने कथन में शोहरतगढ़ व बढ़नी नगर पंचायत में भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए विधायक ने कहा कि इन नगर पंचायतों में अवैध रुप से  टेंडर प्रक्रिया पूरी की जा रही है। बिना बोर्ड बैठक के कार्ययोजना बनाकर लूट-खसोट की जा रही है। पूरे जिले के सामंतवादी नेता उनको पचा नहीं पा रहे हैं। शिकायत करने के बाद भी उनकी सुनवाई नहीं की जा रही है।

… तो 2019 में अखंड बहुमत खंडखंड हो जाएगा– 

पिछड़े व दलित समाज के लोगों ने भारतीय जनता पार्टी को सबका साथ सबका विकास के आधार पर वोट दिया था लेकिन आज सरकार पूरी तरह सामंतवादियों के चंगुल में है। अगर दलितों-पिछड़ों की ऐसे ही उपेक्षा की गई तो ध्यान रखिए 2019 में प्रचंड बहुमत के स्थान पर खंड-खंड बहुमत हो जाएगा।

इतना ही नहीं विधायक ने अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि लगता है कि सरकार को अब पिछड़ों की जरूरत नहीं रह गई है, अगर दलितों-पिछड़ों की ऐसे ही उपेक्षा की जाती रही तो यकीन मानिए 2019 में यही समाज इन लोगों को सबक सिखा देगा। अमर सिंह का यह कथन कहीं आने वाले दिन का अशुभ संकेत तो नही है?

 

 

(490)

Leave a Reply