बढ़नी में डकैती और हत्या को लेकर के व्यापारियों में खौफ, उठाया पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल

November 15, 2015 8:00 pm6 commentsViews: 557

उजैर खां

बढनी में मंगलवार को पडी डकैती में घायल युवक विकास गुप्ता

बढनी में मंगलवार को पडी डकैती में घायल युवक विकास गुप्ता

सिद्धार्थनगर के बढ़नी कस्बे में बीते मंगलवार को एक व्यापारी की हत्या एवं परिवार के अन्य सदस्यों को घायल करने के बाद हुई डकैती की घटना के पर्दाफाश के लिए की जा रही पुलिसिया कार्रवाईयों पर सवाल खड़ा किया है।
व्यापारियों ने कहा है कि इस घटना के खुलासे के लिए जिस टीम को 18 अक्टूबर को कस्बे के मिल कालोनी में एडवोकेट धर्मेन्द्र पाठक के घर हुई डकैती के पर्दाफाश के लिए भी लगाया गया था, अगर वही टीम फिर लगाा दी जाये तो मामले का खुलासा संभव है।

व्यापार मंडल अध्यक्ष हरभजन सिंह की अध्यक्षता में हुई बैठक में व्यापारियों ने कहा कि मंगलवार को जिस प्रकार व्यापारी घनश्याम गुप्ता की हत्या एवं उनके परिवारों को मारने-पीटने के बाद डकैती को अंजाम दिया गया, उससे साफ जाहिर हो गया है कि डकैतों के मन में पुलिस का कोई खौफ नहीं है। उन्होंने कहा कि इस कस्बे के व्यापारियों को अब अपनी सुरक्षा का भय सताने लगा है।

महामंत्री त्रियुगी अग्रहरि, रमेश गोयल एवं राजकुमार सिंह उर्फ राजू शाही ने कहा कि बढ़नी कस्बा नेपाल सीमा पर होने के चलते काफी संवेदनशील है, मगर यहां की पुलिस को इससे कोई सरोकार नहीं है। रात्रि गश्त के नाम पर केवल कागजी कोरम पूरा किया जाता है। व्यापारियों ने पुलिस अधीक्षक से जल्द ही घटना के खुलासे के लिए तेज-तर्रार पुलिस अफसरों को लगाने की मांग की।

दूसरी ओर सपा नेता निसार बागी ने भी पुलिसिया कार्रवाई पर आक्रोश जताते हुए कहा कि पुलिस का ध्यान केवल सीमा पर तस्करों पर रहता है। इसी का फायदा उठाकर कस्बे में कई बार अपराधी घटनाओं को अंजाम दे जाते हैं।

(4)

6 Comments

  • पुलिस की सक्रियता से ही अपराध पर लगाम लगाया जा सकता है

    पुलिस सक्रिय कब होगी जब पत्रकारिता के माध्यम से उन पे उंगलिया उठने लगे

    बहुत खूब उजैर सर

  • वास्तव में सर बहुत डरे हुए हैं हम लोग

  • Sir Ye Ghatna me koi Abhi tak Pakda Gaya Ki Nahi

  • Habibullah Quraisi

    पुलिस प्रशासन को इस मामले का गंभीरता से जाँच करनी चाहिए सर
    जब तक कोई पकड़ा नहीं जायेगा डर हम लोगों का कम नहीं होगा

  • डरना स्वाभाविक है सर कब कौन सी घटना घट जाये
    हम लोगों को अपनी सुरछा खुद करनी होगी पुलिस का भरोसे नहीं रहना है

Leave a Reply