सपा के वरिष्ठ नेता व पूर्व चेयरमैन एस.पी. अगवाल ने थामा भाजपा का दामन

April 10, 2019 5:18 pm0 commentsViews: 755

 

नजीर मलिक

सिद्धार्थनगर। नगरपालिका सिद्धार्थनगर के चेयरमैन और समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता एस.पी. अगवाल आज भाजपा में शामिल हो गये। उनके भाजपा में शामिल होने का एलान आज शोहरतगढ़ में डिप्टी चीफ मिनिरूटर केशव मौर्य के आगमन के अवसर पर हुआ। उनकी पत्नी श्रीमती कुसुम अग्रवाल भी एक बार उसी नगरपालिका से चेयरमैन रह चुकी है।

बताया जाता है कि आज यूपी के उिप्टी चीफ मिनिस्टर शोहरतगढ़ में आये हुए थे। उसी दौरान क्षेत्रीय सांसद और भाजपा प्रत्याशी जगदिॅबका पाल ने उनके भाजपा में शामिल हने की जानकरी दी और केशव मौर्य के कार्यक्रम  के दौरान बाकायदा  उनके भाजपा में शामिल होने काएलान किया गया। से सांसद जगदिॅबका पाल की रणनीति का फल माना जा रहा है। अग्रवाल साहब इधर पार्टी में उपेक्षित चल रहे थे। लेकिन उनकी उपेक्षा के पीछे उनकी गलत रणनीति बतायी जा रही है।

कौन हैं एसपी अग्रवाल

पूर्व पचा चेयरमैन मूलतः शोहरतगढ़ के निवासी हैं., लेकिन काराबार  व राजनीति सिद्धार्थनगर में करते हैं। राजनीति में उनकी शुरुआत कांग्रेस से हुई। वे संजय गांधी के करीबी थे। संजय गांधी की मौत के बाद वो मेनका गांधी के संजय मंच में चले गये। उसके बाद उन्होंने पा ज्वाइन कर लिया और 96 व 2001  व पत्नी कुसुम अगवाल  नगर पाालिका चेयरमैन बन गये।

इसके बाद उनकी राजनीतिक चालें हमेशा गलत हुईं। 2001 में उनकी खुद की गलती से सदर विधानसभा का टिकट उनके हाथ से फिसल गया। उसके बाद वे राजनीति में पिछड़ते गये। अभी कुछ दिन पूर्व वह एक मजबूत सपा नेता से मिल कर उसे भाजपा के पक्ष में करने की कोशिश की, लेकिन सपा नेता ने उनकी पोल खोल दी और वा काफी अपमानित हुए। इसके बाद उनका सपा में रहना नामुमकिन था।

बहरहाल उनको भाजापा जाना था वे चले गये,  लेकिन सच यह है कि वे वैश्य समाज के नेता थे। यह समाज उनको वोट तो देता था, लेकिन लोकसभा व विधानसभा चुनाव में वह हमेशा भाजपा के पक्ष में जाता था।  इसलिए माना जा रहा है कि उनके भाजपा में जाने से सपा को कोई फर्क नहीं पडेंगा। उनके तमाम समर्थक मुस्लिम हैं जो फिलहाल उनके साथ जाने वाले नहीं हैं।

 

(731)

Leave a Reply