जिला अस्पताल में दवा खाने के लिए भी पानी नहीं

August 8, 2015 4:04 pm0 commentsViews: 52

 संजीव श्रीवास्तव

100_1308                         जिला चिकित्सालय का बेकार पड़ा पम्प हाऊस

“सिद्धार्थनगर जिला अस्पताल में पेयजल के लिए कोहराम मचा है, मरीज को दवा खाने के लिए एक गिलास पानी के लिए परिसर के बाहर जाना पड़ता है, अस्पताल में पानी उपलब्ध कराने के दोनो संसाधन इंड़िया मार्का हैंड़पम्प व पानी के टैंक बेकार पड़े है और जिम्मेदार को इसका एहसास तक नहीं हैं”
अस्पताल परिसर में दो वर्ष पूर्व आपातकालीन वार्ड के बाहर लाखों रुपये खर्च कर एक पंप हाऊस स्थापित किया गया था। लोगों को शीतल जल उपलब्ध कराने के लिए फी्रजर भी लगाया गया था। जो कुछ दिन चलने के बाद भी तकरीबन बंदी के कगार पर हैं इसकी टोटियों से बूुंद-बूंद पानी टपकता हैं।
चिकित्सालय परिसर में एक इंडिया मार्का हैंडपंप लगा है, मगर यह काफी दिनों से दूषित जल दे रहा है। इसके पानी का सेवन स्वास्थ्य की दृष्टि से काफी हानिकारक है। इस बात की तस्दीक स्वयं यहां के कई चिकित्सक भी कर रहे हैं। बाल रोग विशेषज्ञ डा. संजय चौधरी के मुताबिक इस नल से आर्सेनिक जैसा खतरनाक तत्व निकल रहा है। जो सेहत की दृष्टि से काफी खतरनाक है।
मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा. ओ. पी. सिंह का कहना है कि वर्तमान में अस्पताल परिसर में पानी की समस्या है। इसके निदान का प्रयास चल रहा है। कांशीराम जल योजना के तहत बनाये गये पंप हाऊस में कुछ तकनीकी खराबी है, जिसे जल्द ही ठीक करा दिया जायेगा।

(0)

Leave a Reply