अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी से जिन्ना की तस्वीर तत्काल हटना चाहिए़-जगदम्बिका पाल

May 3, 2018 3:18 pm0 commentsViews: 644

 

नजीर मलिक

सिद्धार्थनगर। क्षेत्रीय सांसद जगदम्बिका पाल में अलीगढ़ विश्वविद्यालय छात्रसंघ भवन में टांगी गई मुहम्मद अली जिन्ना  की तस्वीर को हटाने की बात कही है। उन्होंने कहा कि अलीगढ़ क्या, देश की किसी भी यूनिवर्सिटी में जिन्ना की तस्वीर यदि लगी हो तो उसे फौरन उतार दिया जाना चाहिए। यह राष्ट्र के प्रति सम्मान का प्रश्न है। इसे अनदेख नहीं करना चाहिए।

सांसद जगदम्बिका पाल ने आज यहां मीडिया से बात करते हुए कहा कि जिन्ना भारत के बंटवारे के जिम्मेदार थे। वा पाकिस्तान के निर्माता हैं। इसलिए उनकी फोटो भारत में कैसे लगाई जा सकती है। यह कृत्य देश की भावना के विपरीत है। उनकी फोटो अगर देश कि किसी भी यूनीवर्सिटी में लगी हो तो इसे फौरन उतारा जाना चाहिए। हम भारत के बंटवारे के जिम्मेदार को आदर नहीं दे सकते।

स्वामी प्रसाद मौर्य पर की टिप्पणी

मीडिया द्धारा पूछे जाने पर कि वे भाजपा नेता और मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य के बयान को किस अर्थ में देखते हैं? इस पर सांसद पाल ने कहा कि उनका बयान उनके निजी विचार है। स्वामी प्रसाद मौर्य जी ने जो भी कहा है, भाजपा से उसका कोई लेना देना नहीं है। उनके बयान का देश का कोई भी हिंदू मुसलमान समर्थन नहीं कर सकता है। उन्होंने स्वामी के बयान को पार्टी का विचार मानने से इंकार किया।

क्या है जिन्ना फोटो विवाद

अलीगढ़ मुस्लिम यूनीवर्सिटी के छा़त्रसंघ भवन जिसे यूनियन  हाल कहा जाता है, उसमें सन 1938 में मोहम्मद अली जिन्ना को यूनियन की मानद सदसरूता देने के अवसर पर उनकी फोटो लगााई गई थी। इस हाल में महात्मा गांधी, बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर सर्वपल्ली राधा कृष्णन आदि महापुरूषों की भी फोटो टंगी हैं। भाजपा उनमें से जिन्ना की फोटो हटाने पर अड़ी हुई है। इसे लेकर देश भर मेंबिहस छिड़ गई है।

 

(601)

Leave a Reply