भनवापुर ब्लाक प्रमुख उपचुनाव में हियुवा ने भाजपा को हरा कर बताई औकात, सभी सीटें टेक्निकली भाजपा को

March 9, 2018 6:31 pm0 commentsViews: 1713

नजीर मलिक

सिद्धार्थनगर। जिले में  ब्लाक प्रमुख के 6 उपचुनाव में सभी सेटों पर भाजपा की जीत हुयी है, लेकिन भनवापुर विकास खंड में तीन बार विधायक रहे भाजपा नेता जिप्पी तिवारी को हिंदू युवा वाहिनी के एक उभरते नेता ने राजनीतिक शिकस्त देकर योगी युग में भाजपा को उनकी औकात में ला दिया है।  इससे जिले के भाजपाइयों में हताशा है और सीएम योगी का खेमा जबरदस्त खुशियां मना रहा है।

यहां बता दें कि पूर्व भाजपा विधायक जिप्पी तिवारी  की पत्नी को  हराने वाले वाले लबकुश ओझा ने अपनी पत्नी शशिकला ओझा को जिता कर जिप्पी तिवारी के वर्चस्व को साफ चुनौती दे दिया है। इससे एक संदेश यह भी गया है कि हिंदू युवा वाहिनी के सामने क्षे़त्र में भाजपा की कोई वकत नहीं रह गयी है। लवकुश ओझा को इसकी बधाई देने वालों को देख कर अंदाजा लगता है कि वह डुमरियागंज इटवा इटवा इलाके में एक शक्ति केन्द्र बन कर उभरे हैं।

दूसरी तरफ  विकास खण्ड बढ़नी में हुए ब्लाक प्रमुख के चुनाव में  बढनी ब्लाक की उम्मीदवार गुडिया देवी ने अपने प्रतिद्वंदी  शांति देवी को 25 मतो से पराजित कर करारी शिकस्त दी। प्राप्त खबर के मुताबिक उपजिलाधिकारी/निर्वाचन अधिकारी सत्य प्रकाष तथा जुबेर बेग ने बताया कि क्षेत्र पंचायत प्रमुख के चुनाव मे कुल 70 मत पडे, जिसमें गुडिया देवी को 46 मत तथा षांति देवी को 21 मत प्राप्त हुएॽ। इसके अलावा 3 मत अवैध पाये गये प्रशासन द्धारा  बताया कि कम्पेनियन के कुल 49मत पडे।

पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष साधना चैधरी तथा युवा नेता सिद्धार्थ चैधरी एवं रिंकू पाल समर्थित प्रत्याशी गुडिया देवी ने अपने प्रतिद्वंदी शंति देवी को 25 मतो से पराजित कर जीत का झंडा लहरा दिया।  इस जीत में भाजपा नेता साधना चौधरी के साथ सपा नेता प्रदीप पथरकट के भी नारे लगे।

इस विजय में सपा नेता प्रदीप पथरकट की अहम भूमिका बताई जार रही है। भाजपा ने प्रदीप की के खिलाफ ही अविश्वास किया था। लेकिन प्रदीप ने भाजपा के एक गुट के साथ् मिल कर जो रणनीति बनाई इससे भाजपा को काफी धक्का लगा है।

गुड़िया की जीत में योगदान देने वालों में  जिला पंचायत सदस्य अजय सिंह, युवा नेता हितेष सिंह, प्रदीप पथरकट्ट, प्रधानसंघ अध्यक्ष कमर आलम, अनुपम षुक्ला, राधेष्याम यादव, सद्दू, चन्दी बाबा, मुन्नू यादव, चिनकू चौधरी, सचिव अनुज चौधरी ॽआदि की भूमिका रही।

 

 

 

 

(1604)

Leave a Reply