जज्बा– जानिए! कैसे कराया गांव के नौजवानों ने गरीब की बेटी का विवाह

July 13, 2018 11:14 am0 commentsViews: 310

राजकमल त्रिपाठी

वधू के पिता को 11 हजार का चेक प्रदान करते समर्पण सेना के युवा

इटवा, सिद्धार्थनगर। ,समर्पण नामक एक छोटी सी संस्था के उत्साही युवाओं ने मेहनत कर एक गरीब के लिए 11 हजार रुपये का इंतजाम कर दिया, जिससे गरीब की बेटी के हाथ पीले हो गये। घटना ढेबरुआ थाना क्षेत्र के कठेला बाजार की है। युवाओं ने जिस प्रकार एक गरीब की शादी का मिन कर बोझ उठाया, वह समाज के लिए एक सबक है। उन युवाओं की क्षेत्र में काफी चर्चा है।

बताया जाता है कि बीते मंगलवार को कठेला गांव के राधेश्याम गुप्ता उर्फ कर्रे की बेटी की 10 जुलाई  को शादी थी। लेकिन गरीबी के करण शादी के लिए धन की व्यवस्था नहीं हो पा रही थी। गां के लोग भी कर्ज देने को तैयार न थे। वह बेटी की शादी  का खर्च कहां से लायेगा, इसकी चिंता उसे खाए जा रही थी। लग रहा था कि बेटी की डोली उठने से पहले उसकी ही अर्थी उठ जाएगी।

इसकी  जानकारी मिलने पर क्षेत्र के विकास के लिए कार्य कर रहा युवाओं का समूह “समर्पण सेना”  इस परिवार की मदद को आगे आया। सोशल मीडिया का सही इस्तेमाल करते हुए समर्पण सेना प्रमुख राजकमल त्रिपाठी ने ग्रामीणों से इस विवाह में मदद करने की अपील की। देखते ही देखते लोगों ने गेहूं चावल तेल नकद यथाशक्ति अपना योगदान दिया।समर्पण राहत कोष से भी उस पुनीत कार्य में  11111 रुपये का सहयोग किया गया।:

10 जुलाई को विवाह समारोह में पहुंचकर समर्पण सेना के युवा प्रहरी सुनील कुमार गुप्ता, सुखराम साहू, पिंटू सोनी,  नंदलाल गुप्ता एवं अन्य ने समर्पण राहत कोष  का सहयोग प्रदान किया। बताते चलें कि समर्पण सेना ने विभिन्न विषम परिस्थितियों से निपटने के लिए समर्पण राहत कोष बना रखा है, जिसमें समय-समय पर क्षेत्रीय लोग अपना अनुदान देते रहते हैं। बहरहाल समर्पण सेना ने जिस प्रकार गरीब की बेटी की शादी में मदद किया, वह समाज के लिए अनुकरणीय है।

 

 

 

 

(283)

Leave a Reply