कृष्णानगर में बेमियादी नाकाबंदी शुरू, चनरौटा में दो ट्रक फूंके गये

December 8, 2015 3:35 pm0 commentsViews: 127

ओजैर खान

कुष्णानगर कस्टम बैरियर पर धरना देते मधेशी आंदोलनकारी

कृष्णानगर कस्टम बैरियर पर धरना देते मधेशी आंदोलनकारी

सिद्धार्थनगर। बढनी बार्डर से सटे कृष्णानगर कस्टम बैरियर पर धरना देकर मधेशियों ने बेमियादी नाकाबंदी आंदोलन शुरू कर दिया है। दूसरी तरफ पास के चनरौटा इलाके में आंदोलनकारियों ने दो ट्रकों को आग लग कर राख कर दिया है।

संघीय जनतांत्रिक मधेशी मोर्चा के बैनर तले सांसद अभिषेक शाह की अगुआई में दोपहर के समय सैकड़ों मधेशी लोग भारत-नेपाल सीमा पर नेपाली कस्टम बैरियर के समक्ष धरने पर बैठ गये और कोई भी सामान भारत से नेपाल में ले जाये जाने पर रोक का एलान कर दिया।

वक्ताओं ने कहा कि नेपाल में खसवादी संविधान बना कर मधेशियों का बहुत अहित किया गया है। मधेशी दूसरे दर्जे का नागरिक बन कर रहने को तैयार नहीं हैं। उन्होंने कहा कि जब तक संविधान में संशोधन कर मधेशियों को उनका वाजिब हक नहीं दिया जाता, आंदोलन जारी रहेगा।

धरने में वरिष्ठ नेता मंगल प्रसाद गुप्ता, पूर्व मंत्री ईश्वर दयाल, राज कुमार गुप्ता, राजू शाही आदि शामिल रहे। उनका कहना है कि आंदोलन आगे भी जारी रहेगा।

दो ट्रक जला कर राख किया

एक अन्य समाचार के मुताबिक बढनी से 12 किम दूर चनरौटा मर्गा पर रूद्रपुर के पास मधेशियों ने दो ट्रकों में आग लगा दी। ट्रक जल कर राख हो गये। उनमें प्याज लदी थी। दोनाें ट्रक चनरौटा जा रहे थे। मधेशियों आंदोलनकारियों के प्रवक्ता ने बताया कि दोनों ट्रक नेपाली थे। वह भारत से प्याज लाद कर नेपाल ले जा रहे थे।

(3)

Leave a Reply