कपिलवस्तु महोत्सव की बैठक में कार्यक्रमों की रूप रेखा तय, 29 दिसम्बर से शुरू होगा कल्चरल मेला

November 9, 2015 5:04 pm0 commentsViews: 239

नजीर मलिक

बैठक में भाग लेते हुए परियोजना निदेशक प्रदीप कुमार पांडेय, डीएम डा. सुरेन्द्र कुमार, सीडीओ अखिलेश तिवारी और सीएम डा. अनिता सिंह

बैठक में भाग लेते हुए परियोजना निदेशक प्रदीप कुमार पांडेय, डीएम डा. सुरेन्द्र कुमार, सीडीओ अखिलेश तिवारी और सीएम डा. अनिता सिंह

जिले की स्थापना दिवस पर आयोजित होने वाले तीन दिवसीय कपिलवस्तु महोत्सव की रूपरेख तय कर दी गई है। महोत्सव का शुभारंभ 29 दिसम्बर को कपिलवस्तु की पुण्य भूमि पर होगा। समापन 31 दिसम्बर की रात में होगा।

जिलाधिकारी डा. सुरेन्द्र कुमार की अध्यक्षता में हुई बैठक में फैसला लिया गया कि सुबह 9 बजे कपिलवस्तु में स्मूप पूजन के बाद दोपहर में 12 बजे जिला हेउक्वार्टर पर महोत्सव का उदृघाटन होगा। तहसील प्रांगण में दिन में गोष्ठियां होंगी। रात में कल्चरल प्रोग्राम होगा जिसमें देश की कोई न कोई नामी हस्ती अपनी टीम के साथ गीत संगीत और नाटक इत्यादि के जलवे बिखेरेगी।

दूसरे दिन भी दिन में रंगोली, वाद विवाद, मेंहदी चित्रकला आदि की प्रतियोगिताएं होंगी तथा रात में आइंडिया कवि सम्मेलन और मुशायरे का आयोजन किया जायेगा। जिसमें देश के नामचीन शायर भाग लेंगे। तीसरे दिन भी दिन के समय गोष्ठियां होंगी तथा पुरस्कार वितरण होगा। रात में रंगारंग कार्यक्रम के साथ महोत्सव खत्म होगा।

इस मौके पर डीएम डा. सुरेन्द्र कुमार ने लोगों से कार्यक्रम में सहयोग की अपेक्षा की। उन्होंने कहा कि जनपद के सबसे बड़े सांस्कृतिक मेले को सफल बनाना हर नागरिक का दायित्व है।

सोमवार को हुई बैठक में सीडीओ अखिलेश तिवारी ने कार्यक्रम की रूपरेखा पेश की और जिलाधिकारी ने उन्हें सहमति प्रदान की। बैठक में सीएमओ डा.अनिता सिंह, पीडी प्रदीप पांडेय उप कृशि निदेशक डा राजीव कुमार सहित तमाम पत्रकारों व बुद्धिजीवियों की उपस्थिति रहीं।

(25)

Tags:

Leave a Reply