बस्ती और देवीपाटन मंडल में भाजपा को करारी शिकस्त, 30 सीटों में मात्र 7 पर मिल सकी जीत

December 2, 2017 11:18 am0 commentsViews: 924

सग़ीर ए खाकसार

भाजपा के मजबूत किले बलरामपुर सदर को जीत कर आईं श्रीमती किताबुन्निशां

सिद्धार्थ नगर । नगर निकाय चुनाव में देवीपाटन और बस्ती मंडल में जनता ने  भाजपा  करारा झटका दिया है। दोनों मंडलों की कुल 30 निकायों के अध्यक्ष  पद के चुनाव में  भाजपा को केवल 7 पर कामयाबी मिली है। बलरामपुर में भाजपा को बड़ी हार का सामना करना पड़ा है।बलरामपुर की चारों सीट भाजपा हार गयी है ,वहीं सिद्धार्थनगर ज़िले की छह सीटों में भाजपा चार सीट हार गयी है। बहराइच, गोंडा और बस्ती व संतकबीर नगर के चुनाव परिणाम भी भाजपा के लिए बेहद निराशा जनक रहे।

बलरामपुर के नगर पंचायत पचपेड़वा और तुलसीपुर में क्रमशः मंज़ूर आलम खान और फ़िरोज़ आलम खान उर्फ पप्पू खान अपनी कुर्सी बचाने में  कामयाब रहे, तो वहीं बलरामपुर मुख्यालय की सीट पर बसपा की हाथी इस बार मानो बौरा सी गयी।बसपा की कितबुन्निशा पत्नी शाबान अली ने शानदार जीत हासिल की है।

नगर पंचायत पचपेड़वा से निर्दल प्रत्याशी सनम मलिक पत्नी मंज़ूर आलम खान ने भाजपा की उर्मिला देवी पत्नी ओम प्रकाश गुप्ता को 180 मतों से हराकर जीत हासिल की।इसतरह यह सीट फिर से मंज़ूर खान के हाथों में आगयी।नगर पंचायत तुलसीपुर से कहकशां पत्नी फ़िरोज़ खान ने भाजपा की प्रत्याशी को 88 मतों से परास्त कर दोबारा सीट को हथिया लिया। भाजपा को उतरौला में करारा झटका लगा।यह सीट भाजपा के पास थी।जिसे सपा के मोहम्मद इदरीस खान ने भाजपा के अनूप गुप्ता को हराकर अपनी झोली में डाल लिया।बलरामपुर मुख्यालय से बसपा को बड़ी सफलता मिली है।बसपा की कितबुन्निशा पत्नी शाबान अली ने 2392 के भारी मतों से भाजपा की मीना सिंह को हराकर जीत हासिल की है।

सिद्धार्थ नगर ज़िले के नगर पालिका बांसी और उसका में सपा की साईकिल चल पड़ी।बांसी की सीट भाजपा के लिए नाक का सवाल था। प्रदेश के कैबिनेट मंत्री जय प्रताप सिंह का गृह नगर बांसी है।ऐसे में भाजपा का हारना बड़ी बात है।यहां से सपा के मोहम्मद इदरीस पटवारी ने ने भाजपा को 1986 मतों से हराकर दोबारा  विजय श्री हासिल की। उसका से सपा की पुनीता यादव ने भाजपा प्रत्याशी मंजू जायसवाल को 4873 मत हासिल कर 1696 मतों से जीत हासिल की।सिद्धार्थ नगर मुख्यालय पर इस बार कमल का फूल खिल उठा यहां से पिछला चुनाव सपा के जमील सिद्दीकी ने जीता था।इस बार वो चुनाव मैदान में नहीं थे।यहां से भाजपा के श्याम विहारी जायसवाल ने 5228 मत प्राप्त कर निर्दल प्रत्याशी फौजिया आज़ाद को 958 वोटों से हराया।शोहरत गढ़ से भाजपा की बबिता कसौधन 2009 वोट हासिल कर निर्दल प्रत्याशी पिंटू गौड़ को 714 मतों से हराया। डुमरिया गंज में बसपा के ज़फर अहमद ने निर्दल प्रत्याशी श्याम सुंदर अग्रहरि को 887 मतों से शिकस्त दी।ज़फर आलम को 3702 मत मिले।नगर पंचायत बढ़नी से लगातार तीन बार चेयरमैन रहे राम नरेश उपाध्याय का किला इस बार निर्दल प्रत्याशी रहे निसार अहमद बाग़ी ने ढहा दिया। लगातर हार का सामना करने वाले बागी ने इस बार भाजपा के सुनील अग्रहरि को 98 मतों से हराकर फतेह हासिल की।

इस के अलावा भाजपा को  देवीपाटन मंडल के गोंडा जिले की 6 सीटों में दो पर विजय मिली है। बहराइच जिले में उसका सूपड़ा साफ हो गया है। बस्ती जिले की पांच निकायों में भाजपा को एक सीट मिल पायी है तो संतकबीरनगर जिले की चार सीटों में से वह दो पर कामयाब हुई है। बलरामपुर की सभी सीटों पर उसकी हार स्तब्धकारी है, क्योंकी देवी पाटन मंदिर के कारण वहां सीएम योगी का  प्रभाव माना जाता है लेकिन भाजपा देवी पाटन मंदिर वाले उपनगर तुलसीपुर में शिकस्त खा गई।

 

 

(865)

Leave a Reply