पर्यावरणीय खतरे को केवल सपा नेता अखिलेश यादव ही समझते हैं- चिनकू यादव

June 7, 2018 4:56 pm0 commentsViews: 317

 

अजीत सिंह

कैथवलिया गांव में पौधरोपण करते सपा नेता चिनकू यादव

सिद्धार्थनगर। देश का पर्यावरण बिगड़ता जा रहा है। इससे दुनियां तबाही के कगार की ओर जा रहा है। इससे बचने का प्रमुख उपाय है वृक्षारोपण। यदि आम आदमी अपनी खाली जमीनों पर पौधे रोने का काम करे तो भविष्य की इस तबाही को रोका जा सकता है। समाजवादी पार्टी इस खतरे को पहचानती है। अनेक राजनीतिक दलों को इस ओर ध्यान देना पड़ेगा।

यह विचार डुमरियागंज के सपा नेता राज कुमार चिनकू यादव ने व्यक्त किया। वह पर्यावरण दिवस के अवसर पर क्षेत्र के ग्राम कैथवलिया में बुद्धा चैरिटेबुल ट्रस्ट की ओर से आयोजित पौधरोपण कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी पर्यावरण के खतरे को बेहतर ढंग से पहिचान कर उसका निदान के प्रयास में है। लखनऊ का जनेश्वर पार्क, गोमती रीवर परियोजना आदि उसी का प्रतिफल है।

इस अवसर पर वरिष्ठ सपा नेता और डुमरियागंज के पूर्व प्रत्याशी चिनकू यादव ने कहा कि आसमान की ओजोन की परत का होल बड़ा होता जा रहा है। निरंतर बढ़ता प्रदूषण पूरी दुनियां को तबाही के ढेर पर पहुंचा चुका है। इसका मुकाबला करना होगा। उन्होंने कहा कि ;इस खतरे को यूपी में सबसे पहले गंभीरता पूर्वक समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव जी  ने पहिचाना। वे पर्यावरण विज्ञानी हैं लिहाजा वे इस खतरे को बेहतर समझते हैं। अपनी सरकार में उन्होंने पांच करोड़ वृक्ष एक ही दिन में लगवाने का रिकार्ड बनाया है।  हम लोग उन्हीं का अनुसरण कर रहे हैं।

इससे पूर्व उन्होंने कैथवलिया गांव में आत का पौध लगा कर कार्यक्रम की शुरुआत की। उनके साथ कई अन्य अतिथियों ने भी पौध रोपण किया।इस अवसर पर आयोजित   कार्यक्रम में जिला पंचायत अध्यक्ष गरीबदास चिंकू सहित सपा नेता दिवाकर यादव, रविशंकर श्रीवास्तव, मोहम्मद कारी हनीफ खान, अखिलेश यादव, पप्पू मलिक, बॉबी चंद श्रीवास्तव, शमशाद, हरेंद्र यादव, अजय गुप्ता, पप्पू पांडे, राजेश यादव, सोनू पांडे, लक्की शुक्ला, छोटे पांडेय, कार्यालय प्रभारी अवधेश सिंह, अज्जू सिंह,  राजन तिवारी,  बब्बू पाठक,  बब्बू बनकटा आदि शामिल रहे।

 

(274)

Leave a Reply