डुमरियागंजः कांग्रेस के टिकट दावेदारों की तेजी बढ़ी, क्या प्रियंका के रूप में लौट आईं इंदिरा गांधी

January 24, 2019 3:41 pm1 commentViews: 2497

नजीर मलिक

सिद्धार्थनगर। प्रियंका गांधी के कांग्रेस महासचिव व पर्पी यूपी के प्रभारी बनाये जाने के बाद सिद्धार्थनगर के कांग्रेसियों में जोश तो है ही जिले की इकलौती डुमरियागंज लोकसभा  सीट से टिकट की दावेदारी कर रहे कांग्रेसी भी काफी उत्साहित है। इसलिए वे टिकट के लिए अब और सक्रिय हो गये हैं। उनका मानना है कि प्रियंका गांधी के प्रभारी बनने के बाद इस सीट से कांग्रेस अचानक मुकाबले में आ गई है। उत्साहित कांग्रेसियों का कहना है कि प्रियंका के रूप में स्व. इंदिरा गांधी लौट आई हैं, सो डुमरियागंज में कांग्रेस के अच्छे दिन भी लौट आये हैं।

डुमरियागंज लोकसभा सीट से कांग्रेस के टिकट के लिए वर्तमान में पांच दावेदार उभर कर सामने आये हैं। उनमें पूर्व सांसद मुहम्मद मुकीम, कांग्रेस कमेटी के केन्द्रीय सदस्य रहे पूर्व दर्जा प्राप्त मंत्री नर्वदेशवर शुक्ल, पूर्व विधायक ईश्वर चन्द्र शुक्ल, कांग्रेस के जिलाध्यक्ष ठाकुर प्रसाद तिवारी और कांग्रेस नेता मौलाना हमीदुल्लाह प्रमुख हैं। इन पांचों में सबके अपने अपने समीकरण थे,  मगर प्रियंका के पूर्वांचल प्रभारी बनने के बाद पूराने समीकरण ध्वस्त होने की आशंका है। अब टिकट वितरण में राहुल के अलावा प्रियंका की राय भी बहुत महत्वपूर्ण होगी, ऐसा कयास लगाया जा रहा है।

बताते हैं कि पूर्व सांसद मुहम्मद मुकीम अपने टिकट को लेकर बहुत आश्वस्त थे। गोरखपुर में खाट आंदोलन के वक्त से वे राहुल गांधी के करीब आ गये थे। समझा जा रहा था कि राहुल के रहते पूर्व सांसद मुकीम का टिकट पूरी तरह से पक्का है, लेकिन सूत्र कहते है कि अब नये तरीके से सभी की स्क्रीनिग होगी। जिसमें राहुल गांधी के साथ प्रियंका गांधी की सहमति भी देखी जायेगी। हालांकि अभी कांग्रेस पार्टी में अधिकृत् आवेदन देने की प्रक्रिया शुरू नही हुई है, लेकिन जब भी शुरू होगी तो तो दावेदारों का नये ढंग से टेस्ट होगा। इसी को सोच कर दावेदारों के हौसले बुलंद हैं। और अब उनकी सक्रियत बढने के संकेत मिलने लगे है।

लेकिन सवाल है कि इस बार टिकट की रेस में कौन आगे है? इस वाल के जवाब में कांग्रेसी पहले की तरह किसी का खास का नाम नहीं लेते। वे स्पष्ट कहते हैं कि जिसे भी टिकट मिलेगा उसी से सब लड़ेंगे। प्रियंका गांधी के आने से जाति धर्म का समीकरण ध्वस्त होता दिखाई पड़ रहा है। जाहिर है कि डुमरियागंज में कांग्रेस के नेता व कार्यकर्ता आत्मविश्वास से भरे हुए हैं।

दावेदारों की सक्रियता का मतलब कांग्रेस के अच्छे दिन- काजी सुहेल

प्रियंका के राजनीति में आने के एलान के 36 घंटे बाद ही कांग्रेस पार्टी के दावेदारों की अचानक बढ़ गई सक्रियता के बारे में काग्रेस के वरिष्ठ नेता काजी सुहेल अहमद कहते है कि यह सक्रियता ही साबित करती है कि कांग्रेस के अच्छे दिन आने वाले हैं। प्रियंका गांधी  के राजनीति में आने की घोषणा के बाद से ही डुमरियांगेज सीट पर कांग्रेस मुख्य संघर्ष में आती नजर आ रही है। गांवों और सड़क चौराहे पर प्रियंका के समर्थन में चलने वाली बहसें इसका प्रमाण हैं।

काजी सुहेल अहमद कहते हैं कि आम आदमी द्धारा स्व. इंदिरा जी में उनकी छवि देखने का मतलब साफ है कि आने वाले चुनाव में डुमरियागंज ही नहीं पूरे देश में छोटी इंदिरा (प्रियंका गांधी) का जादू सर चढ के बोलेगा। यही कारण है कि डुमरियागंज सीट से टिकट मांगने वाले अब काफी सक्रिय हैं। उनकी यही सक्रियता कांग्रेस की मजबूती का प्रतीक है। कांग्रेस अब यहां जीत के उद्देश्य से लड़ेगी। नेता छोटा हा या बड़ा, हिंदू हो या मुसलमान, इस बार कांग्रेस को जाति धर्म से परे सर्वसमाज का वोट मिलेगा।‘

 

(2398)

Leave a Reply