दो करोड़ रुपये कीमत का अति दुर्लभ सेंड बोआ सांप बरामद, नेपाली तस्कर को जेल

August 7, 2017 3:16 pm0 commentsViews: 220

नजीर मलिक

बलरामपुर जिले के  वन विभाग और एसएसबी की टीम ने मिल कर एक अभियान के दौरान अति दुर्लभ प्रजाति का सेंडबोआ  सांप बरामद कर एक तस्कर को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। अंतर्राष्ट्रीय बाजार में सेंड बोआ की कीमत करीब दो करोड़ बताई जा रही है। भारत में इस सांप को आमतौर पर दस लाख रुपये में खरीदा जाता है। पकड़ा गया तस्कर नेपाल का रहने वाला है।

जनपद के डीएफओ करन सिंह गौतम ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर तस्कर को पकड़ने के लिए एसएसबी 62वीं बटालियन और वन विभाग की टीम ने पश्चिमी सोहेलवा वन क्षेत्र नाकेबंदी की। गत दिवस जंगल के अंदर से एक संदिग्ध व्यक्ति को बाइक आता देख जवानों ने उसे सीमा स्तंभ 633/2 के पास रोका। तलाशी के दौरान व्यक्ति के पास से थैले के अंदर एक डिब्बे में अत्यंत दुर्लभ प्रजाति का सेंडबोआ सांप बरामद हुआ।

सोहेलवा वाइल्ड लाइफ डिवीजन के अधिकारियों के अनुसार इस सांप की लम्बाई दो फीट पांच इंच थी। गिरफ्तार घनश्याम का नाम गुप्ता नाम बताया जा रहा है। घनश्याम नेपाली मूल का है और वह  नेपाल  के पुरैना जिला बांके का रहने वाला है। बरामद सांप को लखनऊ के चिड़ियाघर में भेज दिया गया।वन विभाग की टीम ने गिरफ्तार तस्कर को मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया है।

क्या है सेंडबोया सांप

सेंडबोया को स्थानीय भाषा में दुमुंहा सांप कहते हैं। यह 6 माह में एक बार एक मुंह का प्रयोग करते है तो दूसरी बार दूसरे मुंह का। यह सांप दो फुट से लेकर पांच फुट तक का होता है। विश्व में इसकी अनेक प्रजातियां है। छोटे और लाल रंग के सेंडबोआ की अन्तर्राराष्ट्रीय बाजार में सबसे ज्यादा कीमत दी जाती है। बरामद सांप की कीमत दो करोड़ बताई जाती है।

क्यों बिकता है इतना महंगा

दरअसल इस सांप की बिदेशों में बहुत मांग है तथा यह बड़ी मुश्किल से पाये जाते हैं। इंडरेनेशिया, थाईलैंड और खाड़ी के देशों में  इसकर प्रयोग सेक्सवर्धक दवाइयों दवाइयों में किया जाता है।इसलिए इन देशों में इसे भारी कीमत देकर खरीदा जाता है। भारत में भिखारी इसे गले में लटका कर अक्सर भीख मांगते देखे जाते हैं। उन्हें उसकी कीमत का अंदाजा नहीं होता है।

(56)

Leave a Reply