सूबे की सरकार फेल है, प्रशासन झूठा और भ्रष्ट- विजय पासवान

August 19, 2017 8:42 pm0 commentsViews: 156

अजीत सिंह

सिद्धार्थनगर। सपा नेता व पूर्व विधायक विजय पासवान ने आरोप लगाया है कि सिद्धार्थनगर ज़िला प्रशासन ने सैलाब के नाम पर झूठ और भ्रष्टाचार की हदें तोड़ दी है। मुख्यमंत्री तक के निर्देश पर अमल न हो पाने का अर्थ है कि सरकार पूरी तरह विफल हो चुकी है।
यहाँ एक बयान में पूर्व विधायक विजय पासवान ने बताया कि प्रशासन सैलाब से प्रभावित गाँव की संख्या कम बैठक झूठ बोल रहा है। प्रशासन का कहना है कि मैरूंड गावों की तादाद 180 है, जब की इन गावो की तादाद 4 सौ से कम नहीं है। ज़िल में 8 सौ गाँव बाढ़ से प्रभावित् हैं। उन्होंने कहा कि जिलाधिकारी का यह बयान जनता को गुमराह करने वाला है।
विजय पासवान। ने कहा कि प्रशासन की गलत बयानी इस लिए हो रही ताकि, बाढ़ की गंभीरता को छुपाया जा सके। क्यों उसने तटबंधों की मरम्मत के नाम पर लाखों की बंदरबांट किया है। अब वह राहत के नाम पर भी खिलवाड़ कर रहा है।
उन्होंने कहा कि बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों में न तो नावें है, न ही राहत सामग्री वितरित की जा रही है। गावों में बच्चे भूख से बिलबिला रहे है और प्रशासन ने लाइ चना भी नहीं दे पा रहा है। उन्होंने दलील दिया की जब गावों में पहुँचने के लिए नाव ही नहीं है तो स्वयं मुख्यमंत्री भी आ जाएं तो क्या कर लेंगे।
उन्होंने कहा कि मात्र 20 मोटर बोटों से भला सैकड़ो गावों में राहत कैसे बंटवाई जा सकती है। अंत में उन्होंने प्रशासन से फौरन नावों की व्यस्त की मांग की औऱ कहा कि सैलाब उतने के समय बीमारियां तेज़ी फैलती हैं। इसलिए प्रशासन को दवा वितरण भी तत्काल शुरू करा देना चाहिए। बयान में सपा नेता कलाम सिद्दीकी ने कहा कि इस सैलाब में सरकार और प्रशासन की विफलता खुल कर सामने आ गई है। ये ज़िले के इतिहास का सबसे निकम्मा प्रशासन साबित हुआ है।

 

(7)

Leave a Reply