सीएमओ के खिलाफ बगावत, बेमियादी हड़ताल पर कर्मचारी

December 3, 2015 3:14 pm0 commentsViews: 136

नजीर मलिक

सीएमओ कार्यालय पर धरने पर बैठे कर्मचारी

सीएमओ कार्यालय पर धरने पर बैठे कर्मचारी

सिद्धार्थनगर। मुख्य चिकित्साधिकारी के व्यवहार और कार्यप्रणाली से क्षुब्ध सीएमओ कार्यालय के कर्मी विद्रोह का बिगुल बजाते हुए आज अनिश्चित कालीन हड़ताल पर चले गये। इस दौरान उन्होंने धरना देकर सीएमओ के खिलाफ जम कर भड़ास निकाली और शासन से उनके खिलाफ कार्रवाई की मांग की।

जानकारी के मुताबिक मुख्य चिकित्साधिकारी कार्यालय के लगभग सभी पटलों के कर्मी आज तकरीबन 11 बजे कार्यालय में धरने पर बैठ गये। उनका आक्रोश वेतन भुगतान के अलावा उनके अपमानजनक व्यवहार को लेकर था।

धरने के दौरान भाषणबाजी भी हुई। अपने सम्बोधनों में राज्य कर्मचारी संघ के जिलाध्यक्ष नेता अनिल सिंह और विभाग के दीपेन्द्र मणि त्रिपाठी ने आरोप लगाया कि मुख्य चिकित्साधिकारी डा. अनीता सिंह का व्यवहार कर्मचारियों से अपमानजनक हद तक हो रहा है। इससे उनमें क्षोभ है।

दोनों नेताओं ने कहा कि कर्मचारियों को चार महीने से वेतन नहीं मिल रहा है। सभी आर्थिक संकट में हैं। इसका निवारण करने के बजाय सीएमओ साहिबा बेफिक्री अपनाए हुए हैं। वह वेतन देने की ओट में ब्लैकमेलिंग करने की फिराक में हैं।

नेताओं का दावा था कि एक बडे अफसर द्धारा मातहतों के स्वाभिमान पर ठेस पहुंचाना अनुचित है। उन्हें मातहतों से सहृदयता पूर्वक पेश आने का सलीका सीखना होगा। अन्यथा कर्मचारी कड़ा आंदोलन कर सकते हैं।

अंत में हड़तालियों ने सर्वसम्मत से सीएमओ के खिलाफ कारवाई सम्बंधी प्रस्ताव पास किया। धरने में राजेश श्रीवास्तव, दस्तगीर खान, विजय वर्मा, मुरार चंद सिंह, संजीव श्रीवास्तव, सुभाष उपाध्याय, कमलेश उपाध्याय व अब्दुल हफीज वगैरह शामिल रहे।

(9)

Leave a Reply