नबी डेः बब्बू की जीत से डुमरियागंज में दिखा जोश, सिद्धार्थनगर में फौजिया की हार से गमजदा रहे लोग

December 2, 2017 5:22 pm0 commentsViews: 758

नजीर मलिक

सिद्धार्थनगर। जिले में मुसलमानों के आखिरी पैगम्बर हजरत मुहम्मद (सल.) का जन्म दिवस जोशो खरोश से मनाया गया। अस मौके पर जिला मुख्यालय सहित बांसी, इटवा, बढ़नी, डुमरियागंज आदि स्थानों पर मुस्लिम समाज ने बड़े जुलूस निकाले, इंसानियत के लिए दुआएं मांगीं। जुलूस में राजनीतिक प्रभाव की भी छाप रही। डुमरियागंज में  नगर पंचायत चेयरमैन पद के विजेता जफर आलम उर्फ  बब्बू के समर्थक जहां काफी जोश में रहे, वहीं सिद्धार्थनगर में थोड़े अंतर से पराजित फौजिया आजाद के समर्थक थोड़ा मायूस रहे।

मिली जानकारी के अनुसार   आज जिले में नबी डे का सबसे विशाल जुलूस डुमरियागंज में  निकाला गया। इस जुलूस में हालांकि परम्परागत रुप से सभी राजनीतिक दलों के मुस्लिम कार्यकर्ता  शामिल थे, मगर बसपा समर्थर्कों में काफी जोश दिखा। उनके युवा नेता बब्बू ने कल ही चुनाव जीता था।बहरहाल जुलूस के बाद दुआए खैर में बसपा नेता एवं पूर्व मंत्री  कमाल यूसुफ सहित  बसपा नेता सैयदा मलिक, जहीर मलिक, नगर पंचायत अध्यक्ष जफर आलम बब्बू , पूर्व प्रमुख सलमान मलिक,  इकबाल मलिक, इरफान मलिक,  लड्डन मलिक, कयूम मलिक, नौशाद मलिक, सपा नेता चिनकू यादव,  अफसर रिज्वी, मलिक जफर उर्फ पप्पू मलिक  आदि शामिल रहे।

इसके बरअक्स सिद्धार्थनगर  जिला मुख्यालय के जुलूस में भीड़ थी मगर वो रौनक नहीं रही।  सिद्धार्थनगर में आम तौर पर फौजयि के परिजन ही जुलूस का आयोजन करते थे। लेकिन आज के जुलूस में उनकी निराशा साफ दिख रही थी। एक डिजर्बिग कंडीडेट के हार जाने का गम सबको होता है, सो वह यहां भी था।सिद्धार्थनगर के जुलूस ने शहर का भ्रमण किया और सिद्धार्थ तिराहे पर इंसानियात के हक में दुआएं मांगी। जुलूस में  अली अहमद सिद्दीकी, गुलाम नबी आजाद, मुहम्मद गौरी, शाहिद सिद्दीकी आदि शामिल रहे।

इसके अलावा इटवा, बांसी, उस्का बाजार, शोहरतगढ़,  मिश्रौलिया, चेतिया  आदि में भी नबी डे पर जुलूस निकला। प्रार्थना सभाएं हुईं और मानवता के हक में दुआएं मांगी गईं। इटवा का जुलूस भी उल्लेखनीय रहा।

 

 

 

 

 

(697)

Leave a Reply