ओवैसी की “मीम” के बिना सपा-बसपा का गठबंधन अधूरा- इज़हार हुसैन

January 16, 2019 1:14 pm0 commentsViews: 436
Share news

 

निज़ाम अंसारी

शोहरतगढ़, सिद्धार्थनगर। सपा – बसपा – आरएलडी का गठबंधन एआईएमआईएम के बिना अधूरा है।एआईएमआईएम के बगैर यह गठबंधन भाजपा के रथ को रोक नहीं पायेगा।यह बातें एआईएमआईएम पार्टी के सिद्धार्थनगर जिला महासचिव इज़हार हुसैन ने कहा। उन्होंने कहा कि महागठबंधन असदुद्दीन ओवैसी साहब के बिना अधूरा है क्योंकि एआईएमआईएम का प्रदेश के 76 जनपदों में संगठन सक्रिय है और यह आम आदमी के संवैधानिक अधिकारों के प्रति हमेशा मुखर रहकर बेबाक रूप से अपनी बातें रखती है।

इज़हार हुसैन ने इस बात पर दुख जताते हुवे कहा कि एआईएमआईएम पार्टी उत्तर प्रदेश में दो चुनाव लड़ चुकी है एक विधान सभा चुनाव व एक कॉर्पोरेटर का चुनाव जिसमें पार्टी के 35 कॉर्पोरेटर  और एक चेयर मैन गाजियाबाद से चुनाव जीते हैं। महागठबंधन में उनकी पार्टी को शामिल न करना सपा व बसपा की महाभूल साबित होगी, क्योंकि  ओवैसी साहब के मुखर और बेबाक राय रखने से पार्टी का जनाधार उत्तर प्रदेश में लगातार बढ़ रहा है जिसकी उपेक्षा महागठबंधन के अगुआकारों को मंहगी पड़ेगी ।

रिपोर्टर से बात चीत के दौरान इज़हार हुसैन ने बताया कि यदि पार्टी उन्हें डुमरियागंज सीट से चुनाव लड़वायेगी तो वह जरूर चुनाव लड़ेंगे।हुसैन ने ताजा राजनीतिक समीकरणों का हवाला देते हुवे कहा कि मौजूदा समय में ओवैशी जैसा ईमानदार और कर्मठ और देश की अंदरूनी और विदेशी मामलों में भारत की सियासत के चांद हैं और इसी बिना पर वह सर्व समाज के नेता हैं, जिससे पार्टी मजबूत हो रही है। उन्होंने कहा जनता ओवैसी पर उम्मीद लगाए बैठी है,  सपा-बसपा उसे गठबंधन में शामिल न करके ऐतिहासिक भूल कर रही है।

(217)

Leave a Reply


error: Content is protected !!