तेवरः विधायक अमर सिंह ने योगी सरकार की उड़ाई धज्जियां, कहा अब तक की भ्रष्टतम् सरकार

January 6, 2022 1:35 pm0 commentsViews: 1792
Share news

पिछड़ा वर्ग के हितों पर अनदेखी करने का आरोप, कहा सिर्फ राजपूतों को मिल रहा जम कर लाभ

कमीशनखोरी अपने उच्चतम स्तर पर, गांवों में न आवास न पेंशन, गरीब पूछते हैं तो क्या जवाब दूं?

 

नजीर मलिक

सिद्धार्थनगर। भाजपा गठबंधन की साझीदार पार्टी व शोहरतगढ़ क्षेत्र से अपना दल के विधायक चौधरी अमर सिंह के एक इंटरव्यू ने प्रदेश में तहलका मचा रखा है। एक न्यूज चैनल को दिये गये लंबे साक्षात्कार में चौधरी अमर सिंह ने योगी सरकार पर करारा हमला बोलते हुए उसे अब तक सबसे भ्रष्ट सरकार की संज्ञा दे डाला है। यही नहीं उन्होंने सरकार पर पिछडा वर्ग के हितों की अनदेखी करते हुए योगी सरकार में केवल क्षत्रिय वर्ग के बोलबाले की बात भी कही है। करीब 45 मिनट के इंटरव्यू  में तमाम सवालों का जवाब सुनने के बाद यह महसूस किया जा सकता है कि आगामी चुनाव में उन्हें अपना ठौर ठिकाना भी बदलना पड़ सकता है। आइये देखते है उस लम्बे इंटरव्यू की कुछ महत्वपूर्ण बातें।

क्षत्रिय वर्चस्व वाली सरकार?

पिछले हफ्ते प्रदेश के लोकप्रिय न्यूज चैनल ‘फोर पीएम’ के संजय शर्मा से बातचीत करते हुए वधायक अमर सिंह ने कहा है कि योगी सरकार में पिछड़ों की बात नहीं सुनी जा रही है। इस पर जब पत्रकार ने सवाल किया कि पांच साल आपने यह बात नहीं कही और अब जब चुनाव होने वाले हैं तो ही आपको यह बात याद आई? इस पर अमर सिंह ने कहा कि वे तो सरकार बनने के आठ महीने बाद से ही मुखर हैं। गांवों का विकास ठप पड़ा है। सरकार नौकरशाह चला रहे हैं। पिछड़ों के हकों पर डाका डाला जा रहा है। सरकार में सभी बड़े व प्रभावशाली पद सवर्ण वर्ग को दिये गये है। योगी आदित्याथ से पूछना चाहिए वे प्रदेश में दलित, पिछड़े और मुस्लिम अफसरों को महत्वपूर्ण पद क्यों नहीं दे रहे।  सच तो यह  है कि प्रदेश में क्षत्रिय वर्चस्व वाली सरकार चल रही है।

भाजपा सरकार हिल गई है

संजय शर्मा के एक अन्य सवाल के जवाब में विधायक अमर सिंह चौधरी ने कहा कि यह सरकार हिली हुई है। यह अयोध्या, काशी और मथुरा में भागे भागे फिर रहे हैं। लगता है कि सारे वोट वहीं पड़े हैं।  उन्हें किसानों की चिंता नहीं है। पिछड़ों की चिंता है। किसान बिल को लाने से यह साबित हो गया था कि सी सरकार अडानी और अम्बानी की है। अगर जनता गांवों में भाजपा नेताओं को दौड़ाती नही तो यह बिल वापस नहीं होता। प्रदेश सरकार को अब तक की सबसे भ्रष्ट सरकार बताते हुए कहा कि 3 हजार करोड़ रूपये का फर्जी टेंडर निकाल कर अपने चहेतों को काम दे दिया गया।

टिकट मिले न मिले गम नहीं

जब पत्रकार ने कहा कि आप सरकार के सहयोगी होकर उसकी आलोचना कर रहे हैं। इस पर विधायक अमर सिंह ने कहा कि उन्हें टिकट मिले या न मिले परवाह नहीं। वह सच ही बोलेंगे। इस सरकार में पिछड़ों को नजर अंदाज कर रही है। प्रदेश में राजपूतों का वर्चस्व है। अफसर मनमानी कर रहे हैं। भाजपा सरकार अगर भ्रष्ट न होती तो कल का साधारण उद्योगपति अडानी एशिया का सबसे बड़ा पैसे वाला कैसे बन जाता। इंटरव्यू में अमर सिंह ने क्षेत्रीय सांसद जगदिॅबका पाल पर भी करारे व्यंग्य कसे।

इंटरव्यू के बाद कयासबाजियां शुरू

इंटरव्यू में भाजपा सरकार पर विधायक के इस प्रकार के तीखे हमलों के बाद राजधानी में बहुत हलचल है। लोग बाग इस पर चर्चा कर रहे है कि अब भाजपा इस सीट को शयद ही अपना दल के लिए छोड़े और अगर छोड़ा भी तो शायद अपना दल से अमर सिंह को टिकट देने दे। इंटरव्यू में अमर सिंह ने जिस प्रकार सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव की तारीफ की उससे कुछ लोग उनके सपा में जाने की कयास लगा रहे है। ऐसे में आगामी दिनों में शोहरतगढ़ की राजनीति किस करवट बैठेगी, यह देखना दिलचस्प होगा।

 

 

 

 

(1654)

Leave a Reply


error: Content is protected !!