आनर किलिंग के तहत हुआ आशीष का कत्ल, युवती सहित पूरा परिवार कत्ल के जुर्म में गिरफ्तार

September 26, 2021 10:30 am0 commentsViews: 4735
Share news

— शादी की उम्मीद में दुबई की अच्छी नौकरी छोड़ कर हाल में भारत लौटा था आशीष

— जायसवाल वैश्य होने के कारण शादी के खिलाफ थे काजल के अग्रहरि परिवारीजन

 

नजीर मलिक

सिद्धार्थनगर। शहर के प्रतिष्ठित परिवार के युवा आशीष जायसवाल की मौत से परदा उठ गया है। उसने आत्म हत्या नहीं की थी, बल्कि उसकी हत्या आनर किलिंग थी।  शहर की ही एक युवती से अरसे से चल रहे प्रेम संबंध के जब शादी में बदलने का समय आया तो दोनों के बीच में जाति दीवार बन कर खड़ी हो गई। अशीष ने जब जातीय दीवार ढहाने की कोशिश की तो प्रेमिका के परिजनों की ओर से उसकी जिंदगी की  दीवार ही ढहा दी गई। कत्ल के मात्र 20 घंटे के अंदर इस प्रकरण का खुलासा करने के साथ पुलिस ने युवती के पिता अशोक अग्रहरि, भाई शिवम व आशोक को गिरफ्तार कर लिया है। सभी शहर के राहुलनगर वार्ड वासी हैं।

दरअसल अशीष का शव शुक्रवार सायं बरामद होने के एक घंटे बाद ही शहर में यह खबर फैल गई कि उसने कुछ दिन पूर्व काजल के परिजनों से अपनी जान का खतरा बताते हुए फेसबुक पर एक पोस्ट डाला था, जिसमें सुनीता संग उसकी फोटो भी थी। इससे काजल के परिजन उसके खिलाफ थे और बार बार उसे जान से मार देने की धमकियां भी दे रहे थे। यही नही मरने से कुछ घंटे पहले उसने एक विडियो भी वायरल किया था जिसमें उसने अपनी सारी व्यथा को बताया था।

लेकिन सवाल है कि जब आशीष ने स्वयं स्वीकार किया है कि या तो उसकी हत्या धमकी देने वाले  लड़की के परिजन कर देंगे या शादी नहीं होने पर वह स्वयं जान दे देगा। फिर पुलिस ने बिना जांच के ही मुकदमा क्यों लिख लिया। इस बारे में पुलिस वाले ही नाम न छापने की शर्त पर पर खुद कहते हैं कि यह मुकदमा राजनीतिक दबाव में किया गया है। वरना इसमें जांच जरूरी था।

दूसरी तरफ मृतक आशीष के भाई व मुकदमा वादी विवेक जायसवाल का कहना है कि उसके भाई व काजल में प्रेम था। भाई इसी शादी के लिए विदेश की नौकरी छोड़ कर यहां आया था। लेकिन दोनों परवारों के बीच जाति का मामला आ गया। हम जायसवाल थे और वह अग्रहरि इसलिए लड़की वाले इस शादी को सहन नहीं कर पा रहे थे। विवेक जायसवाल के मुताबिक उन्हें आशंका है कि मंगलवार को आशीष को शहर के बाहर जमुआर नदी के पास उसे शादी की बातचीत के लिए बुलाया गया, जहां उसे मार कर नदी में फेंक दिया गया।

बता दें कि शुक्रवार को सदर थाना क्षेत्र के जमुआर नाले में धौरीकुयां गाँव के पास आशीष का शव मिला था। जिसको देखने से लगता था कि वह कई दिन पुराना है। आशीष पिछले मंगलवार से गायब था, 30 वर्षीय मृतक आशीष जिला मुख्यालय के बेलहिया मुहल्ले का निवासी था। वह शहर के एक प्रतिष्ठित परिवार से था। वह शहर के व्यवसाई अशोक अग्रहरि की बेटी काजल से प्यार करता था, मगर लड़की का पक्ष इस पर राजी न था। इसके बाद मंगलवार को आशीष अचानक गायब हो गया फिर शुक्रवार को उसकी लाश नदी से बरामद हुई।

आशीष के परिजन उसकी हत्या के साथ साथ ऑनर किलिंग की बात कह रहे है। वह अपनी प्रेमिका के साथ अपनी फोटो सोशल साइट पर डाल दिया था। आशीष मंगलवार से अपने घर से गायब था। गायब होने से पहले वह अपना 10 मिनट का वीडियो भी सोशल मीडिया पर डाला था। जिसमे उसने अपनी प्रेमिका के घर वालों द्वारा हत्या की आशंका भी जाहिर की थी। आशीष का शव मिलने से परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है और वे सीधे तौर पर ऑनर किलिंग की बात कह रहे है। वहीं पुलिस शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के भेज दिया।

मौत से पहले जारी विडियो  में क्या कहा अशीष ने?

सिद्धार्थनगर। मौत से पहले जारी विडियो के मुताबिक आशीष-काजल में बहुत प्रेम था। आशीष की मां उसके रिश्ते की बात लेकर काजल के घर भी गईं। मगर घरवालों ने इंकार कर दिया।  काजल ने उसके समक्ष घर से भग कर शादी का प्रस्ताव भी रखा। परंतु पांच साल के बाद उसे अचानक लगा कि अब काजल अपने परिजनों के साथ मिल कर उसे चीट कर रही है। आशीष के मुताबिक काजल के परिजन शायद उसकी जान लेकर ही छोडें। उसने विडियों में यह भी कहा है कि उसका जायसवाल और काजल का अग्रहरि होना उसकी राह में सबसे बड़ी बाधा है। उसने यहा तक कहा है कि अगर काजल कह दे तो मै उससे रिश्ता तोड़ सकता हूं। उसके कहने पर एक बार ऐसा कर भी चुका हूं। परन्तु उसके रोने धोने और माफी मांगने के बाद फिर से सम्बंध बनाया। परन्तु अब लगता है कि उसके साथ चाल चली जा रही है। क्यों कि काजल ने शादी के लिए दबाव बनाने के नाम पर एक बार उसके परिजनों को मुझसे धमकी दिलाया फिर अचानक वह कन्नी काटने लगी। लगता है कि उसे फंसाने की एक साजिश रची जा रही है।

 

(4224)

Leave a Reply


error: Content is protected !!