आखिर पुलिस के छापे में हर बार अवैध दारू बनाने वाले फरार कैसे हो जाते हैं?

September 7, 2020 12:12 PM0 commentsViews: 547
Share news

शिव श्रीवास्तव

महराजगंज। बृजमनगंज थाना क्षेत्र के लोधपुरवा गांव में आज बृजमनगंज व आबकारी विभाग की टीम ने कच्ची शराब कारोबारी के खिलाफ छापेमारी की जिसमे पुलिस को केवल पाँच कुंतल लहन व आधा दर्जन के करीब भट्टियों को नष्ट किया। मजे की बात यह है कि पूर्व की भांति दारू बनाने वाले एक बार फिर सफल रहे और पुलिस के हाथ मुठ्ठी भर ‘लहन’ ही लग पाई। वैसे ऐसे मामले में सिद्धार्थनगर पुलिस भी कम नहीं है।

गौर तलब है कि मुकामी पुलिस जब भी क्षेत्र में अवैध दारू बनाने के अड्उे पर छापेमारी करती है तो उनके पहुंचने से पहले ही अवैध दारू कारोबारियों को इसकी सूचना मिल जाती है और वे फरार हो जाते हैं। जिससे पुलिस की कार्यप्रणाली पर संदेह होना लाजिमी है।इससे पता चलता है कि पुलिस से बड़ा और मजबूत सूत्र अवैध दारू कारोबारियों का है, जिससे पुलिस के पहुँचने से पहले ही कारोबारियों को छापे की भनक लग जाती है और वह मौके से फरार हो जाते हैं।

ऐसा नहीं कि इस तरह की कार्रवाई पहली बार पहली बार है। इस तरह से पुलिस कई बार वहाँ छापेमारी कर चुकी है, लेकिन आज तक एक भी कारोबारी को नही पकड़ सकी, यह अपने आप मे बहुत बड़ा सवाल है। फिलहाल पुलिस लगातार अपनी कार्यवाही कर रही है और इस आस में लगी हुई कि एक ना एक दिन अवैध कारोबारियों को अपने गिरफ्त में लेगी। मगर क्या सचमुच में ऐसा हो सकेगा, लगता तो नहीं।

Leave a Reply