चार थानों की फोर्स के साथ प्रशासन ने गिरवाया मकान, अवैध कब्जेदारों में खौफ

May 10, 2017 2:19 PM0 commentsViews: 1389
Share news

 अमित श्रीवास्तव

789

मिश्रौलिया, सिद्धार्थनगर।  बांसी तहसील के चेतिया बाजार में पुलिस और प्रशासन की संयुक्त टीम ने तीन अवैध कब्जेदारों का पक्का मकान और पिलर जेसीबी मशीन से ढहवा दिया। इस मौके पर पुलिस और परिजनों में झडप भी हुयी। नतीजे में महिला पुलिस भी बुलानी पड़ी। तीन थानों की फोर्स पहले ही मौजूद थी। इस घटना से अस पास के अवैध कब्जेदारों में खौफ छा गया है।

बताते हैं कि पुलिस और प्रशासन की संयुक्त टीम जब अवैध कब्जाधारी उमाशंकर यादव के पक्के मकान को गिराने के लिए पहुँची, तो घर में सो रही महिलाओ से झड़प हो गयी।एक घण्टे के बाद जब जिला मुख्यालय से महिला एसओ महिला कांस्टेबलों के साथ पहुँची, तब जाकर उमाशंकर यादव के मकान पर जेसीबी मशीन लगाकर घर गिराया गया।इस दौरान बीच बीच में महिलाये रो रो कर फरियाद करती रहीं, लेकिन तहसील प्रशासन पर एक भी नहीं चली।

तहसील प्रशासन ने भारी पुलिस बल की मौजूदगी में एक मकान,एक छत लेवल दीवाल राम लौटन यादव की पूरी तरह धराशायी कर दिया।इसी कार्यवाही के दौरान पोखरे के भीटे पर बने  घिसियावन चौरसिया और नोहर प्रजापति के पिलर भी जेसीबी लगाकर धराशायी कराये गये।उमाशंकर यादव के घर की महिलाओं ने बताया कि वो अपने घरो में सो रही थीं।तभी अचानक उनके घर को जेसीबी मशीन से तोडा जाने लगा।

इस पर जब उन लोगों ने एतराज किया तो प्रशासन द्वारा बताया गया कि ये सरकारी जमीन में अवैध तरीके से घर बनाया गया है। इसकी जानकारी घर के मुखिया को तहसील प्रशासन और मिश्रौलिया पुलिस ने सूचना दी थी और उमाशंकर के खिलाफ अवैध कब्जे का मुकदमा भी दर्ज किया गया है।।वहीं घर महिलाओ का कहना है की जब मकान गिराया जा रहा था,  उस दौरान दो महिला सहित एक बच्चे को भी चोट आ गयी। इस दौरान मिश्रौलिया, गोल्हौरा, इटवा, व महिला थाने की फोर्स मौजूद रही।

एक घण्टे तक मकान और पिलर को तोड़ने का काम चला।तहसीलदार के साथ कानूनगो सुधाकर पान्डेय, लेखपाल नायाब तहसीलदार लालता प्रसाद मौजूद रहे।तहसीलदार ने बताया कि आज उमाशंकर और राम लौटन के  अवैध तरीके से सरकारी जमीन पर बनाये गए मकान को गिरवाया गया है।

Leave a Reply