बाबा साहब ने बनाया संविधान, सपा, भाजपा, कांग्रेस उड़ा रही उसका मजाक- ­­जमील ⁄ अरशद

December 6, 2016 5:51 PM0 commentsViews: 441
Share news

                                     अम्बेडकर परिनिर्वाण दिवस

एम. आरिफ⁄ दानिश फ़राज

ambed122

इटवा⁄ शोहरतगढ़, सिद्धार्थनगर। बाबा साहब डॉ. भीमराव अम्बेडकर युग पुरुष थे। उन्होंने भारत में सामाजिक न्याय पर आधारित संविधान की रचना की थी, लेकिन भाजपा सरकार नोटबंदी और सपा गुंडागर्दी के सहारे संविधान का मजाक उड़ा रही है।

यह बातें बसपा नेता और शोहरतगढ़ व इटवा से पार्टी उम्मीदवार क्रमश: मो. जमील सिद्दीकी और हाज़ी अरशद खुर्शीद ने कहीं। वह बाबा साहब के परिनिर्वाण दिवस पर आयोजित जन सभाओं में जनता से संवाद कर रहे थे। दोनों नेताओं ने कहा कि देश और संविधान को बचाने के लिए बाबा साहब की विचार धारा  को मजबूत करना पडे़गा।

शोहरतगढ़ की जन सभा को सम्बोधित करते हुए जमील सिद्दीकी ने कहा कि नोटबंदी की सर्जिकल स्ट्राइक कर मोदी जी ने भारत की जनता को लाइन में खड़ा कर भुखमरी के कगार पर पहुंचा दिया है। उन्होंने कहा कि नोटबंदी के फरमान को जारी कर मोदी जी ने खुद खाऊंगा और अपने ही चहेतों को खिलाऊंगा के नारे को साबित कर दिखाया।

जिन चहेतों के घरों में नोटों की बोरियां हैं वो नोटबंदी के आदेश के बाद भी सुकून की नींद सो रहे हैं परन्तु जिनके घरों में अनाजों की बोरियां हैं उन्हें 8 नवम्बर से लाइन में खड़े होने पर मजबूर कर दिया है। बता दें कि शोहरतगढ़ में इस सत्र की बसपा की यह सबसे विशाल सभा रही।

उन्होंने कहा कि अब समय आ गया है कि समस्त बसपा कार्यकर्ता संकल्प ले कि आगामी विधानसभा चुनाव में हाथी को जिताना है। बहन मायावती के नेतृत्व में प्रदेश विकास करेगा और विकसित व उत्तम प्रदेश बने।सपा व भाजपा से ऊब चुकी है प्रदेश की जनता उत्तर प्रदेश में गुण्डाराज कायम है। लोग दहशत में जीने को मजबूर है।

कार्यक्रम में कोमल प्रसाद भ्रमर जिला प्रभारी, विशिष्ट अतिथि  अमजद अली जिला सचिव, पट्टू राम आजाद पूर्व जिलाध्यक्ष, गंगा मिश्रा जिला पंचायत सदस्य, शफीक अहमद ब्लाक प्रमुख नौगढ़ बसपा प्रत्याशी मो. जमील सिद्दीक़ी, हरिराम गौतम, नबाव भाई, रमेश चमार,ओम प्रकाश, अन्नू भाई,फजलू बीडीसी, दुर्गेश यादव, सहाब भाई, रविंद्र चमार, अनिल अग्रहरी, संतोष पासवान, जुम्मन बीडीसी, सब्बीर भाई, राधेश्याम मौर्या, रिंकू श्रीवास्तव, राजेश कुमार, चन्द्रभान, अनिल गौतम, राजा भाई, सद्दाम आदि उपस्थित रहे।

दूसरी तरफ इटवा में आयोजित जनसभा को सम्बोधित करते हुए हाज़ी अरशद खुर्शीद ने कहा कि बाबा साहेब ने हमारे देश का संविधान बनाया था। बाबा साहेब एक ईमानदार और सच्चे इनसान थे। आज के लोगों को बाबा साहेब के दिखाए रास्ते पर चलना चाहिए।

उन्होंने कहा कि बसपा बाबा साहेब के बताये हुये मार्ग पर चल कर दबे कुचले एंव समाज में सभी को बराबरी का हिस्सा देने का काम करती है। पर विरोधी पार्टियों ने हमेशा से समाज को बांटने का काम किया है। दलितों और पिछड़ों को लेकर बीजेपी और कांग्रेस हमेशा फर्क पैदा करती रहीं है। सपा सरकार में दलितों पर हर तरफ जुल्म हो रहा है। जिससे आज दलित सुरझित नहीं है।

इसी क्रम में भुल्लर प्रसाद ने कहा कि बाबा साहेब ने भारतीय संविधान में सभी भारतीयों को समान अधिकार दिए थे। उन्होने ने सही मायने में सामाजिक समरसता का संदेश दिया था। इसके बावजूद वर्तमान में दलितों के खिलाफ अत्याचार से जुड़े मसले रोज सुनने में आ रहे हैं।

कार्यक्रम को ज्वाला प्रसाद, अशलम खुर्शीद, नजरे आलम, अरविन्द मिश्रा, साजिद खान, इकराम खान आदि ने भी सम्बोधित किया। इस अवसर पर राम प्रताप मिश्रा, बाबूलाल गौतम, यासीन चैधरी, इमरान, बड़कन, पेशावर पासवान, जगीर आदि लोग उपस्थित रहे।

Leave a Reply